scorecardresearch
 

लालू यादव के मोबाइल इस्तेमाल करने पर सवाल, जेल सुपरिटेंडेंट ने झाड़ा पल्ला

जेल सुपरिटेंडेंट हामिद अख्तर कहते हैं कि जेल में मैन्युअल का पालन उनके अधिकार क्षेत्र में है, लेकिन लालू यादव 1 केली बंगले में पुलिस कस्टडी में हैं. उसकी जिम्मेदारी प्रशासन पर है. 

X
आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव (फाइल फोटो)
आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सुशील कुमार मोदी के ट्वीट ने लालू की परेशानी बढ़ाई
  • नीतीश सरकार को गिराने की साजिश कर रहे हैं लालू: सुशील मोदी
  • NDA के विधायकों को प्रलोभन दे रहे हैं लालू: सुशील मोदी

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी के ट्वीट ने राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की परेशानी बढ़ा दी है. सुशील मोदी ने आरोप लगाया है कि लालू यादव रांची में रिम्स के 1 केली बंगले से ही NDA के विधायकों को प्रलोभन दे रहे हैं और नीतीश सरकार को गिराने की साजिश कर रहे हैं. 

सुशील मोदी के मुताबिक, लालू यादव 8051216302 नंबर से लगातार विधायकों को फोन कर रहे हैं और इस नंबर पर कॉल बैक करने पर उन्होंने फोन भी उठाया है. ऐसे में सवाल उठने लगे हैं कि लालू प्रसाद यादव के पास मोबाइल आया कहां से. इस मुद्दे पर जेल सुपरिटेंडेंट ने पल्ला झाड़ लिया है.

जेल सुपरिटेंडेंट हामिद अख्तर कहते हैं कि जेल में मैन्युअल का पालन उनके अधिकार क्षेत्र में है, लेकिन लालू यादव 1 केली बंगले में पुलिस कस्टडी में हैं. उसकी जिम्मेदारी प्रशासन पर है. उन्होंने कहा कि मोबाइल के साथ अंदर जाने की इजाजत किसी को नहीं है.

हामिद अख्तर ने कहा कि 1897 के जेल मैन्युअल में मोबाइल के इस्तेमाल का कहीं जिक्र ही नहीं है. वहीं, रांची के उपायुक्त छवि रंजन की दलील है कि SSP को देखना चाहिए कि जेल मैन्युअल का पालन ठीक से हो रहा है या नहीं. छवि रंजन कहते हैं कि वे कभी 1 केली बंगला जाते नहीं हैं. 

यूं तो मोबाइल इस्तेमाल के लिए सजायाफ्ता या कैदी को नहीं दी जा सकती. लेकिन जेल हो या प्रिजनर के लिए बनाया गया विशेष जेल, वहां जो ड्यूटी पर तैनात है, उन्हें आला अफसर से निर्देश आते हैं तो वो मोबाइल छोड़कर जा भी नहीं सकते. इसलिए किसी कैदी के लिए मोबाइल का जुगाड़ और उसका इस्तेमाल किया जाने को इनकार भी नहीं किया जा सकता. 

लगातार सुर्खियों में है 1 केली बंगला

रिम्स का 1 केली बंगला लालू प्रसाद यादव के रहने की वजह से लगातार बीते अगस्त से सुर्खियों में है. बीजेपी आरोप लगाती रही है कि लालू यादव जेल की सजा नहीं, बल्कि बंगले में आराम की जिंदगी बीता रहे हैं. बीजेपी आरोप लगाती रही है कि जेल मैन्युअल का खुलकर उल्लंघन किया जा रहा है. लालू यादव फोन पर ही पार्टी की कमान संभाल रहे हैं. 

Lalu Yadav making telephone call (8051216302) from Ranchi to NDA MLAs & promising ministerial berths. When I telephoned, Lalu directly picked up.I said don’t do these dirty tricks from jail, you will not succeed. @News18Bihar @ABPNews @ANI @ZeeBiharNews

पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने तो ये भी आरोप लगाया कि लालू यादव NDA के विधायकों को प्रलोभन दे रहे हैं और नीतीश सरकार को गिराने की साजिश कर रहे हैं. सुशील मोदी के ट्वीट से बिहार और झारखंड के सियासी गलियारे में बवाल मचा है. बीजेपी ने लालू यादव को वापस रांची के होटवार जेल भेजने की भी मांग की है, ताकि वो रिम्स में बैठकर राजनीति न कर सकें.

देखें- आजतक LIVE TV

लालू प्रसाद यादव को इसी साल 1 केली बंगले में शिफ्ट किया गया है. पहले वो प्राइवेट वार्ड में रह रहे थे, लेकिन उनके फ्लोर के ठीक ऊपर और नीचे कोरोना मरीजों का इलाज होने लगा. वार्ड के सामने कोविड वार्ड भी था. ऐसे में रिम्स के मेडिकल बोर्ड ने उन्हें 1 केली बंगला, जो सबसे नजदीक था वहां शिफ्ट करने का फैसला लिया. 

यहां शिफ्ट होते ही बीजेपी झारखंड सरकार पर लालू यादव को जरूरत से ज्यादा सहूलियत देने के बात कहने लगी, साथ ही जेल मैन्युअल के उल्लंघन का आरोप भी लगातार लगने लगा. इस बार तो जेल से ही नीतीश सरकार को गिराने के सनसनीखेज आरोप भी लगे. हालांकि, आरजेडी प्रवक्ता और नेता लालू प्रसाद यादव के बचाव में खुलकर आ गए हैं. 

ये भी पढ़ें


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें