scorecardresearch
 

‘बोल दो कोरोना हो गया’, सुशील मोदी का दावा- लालू ने किया BJP MLA को फोन, ऑडियो जारी

बिहार विधानसभा में स्पीकर पद के चुनाव से पहले बीजेपी और राजद में आरोप-प्रत्यारोप का खेल जारी है. सुशील मोदी ने पूर्व सीएम लालू यादव पर बीजेपी नेताओं को जेल से फोन करने का आरोप लगाया है.

लालू यादव और सुशील मोदी में जंग (फाइल) लालू यादव और सुशील मोदी में जंग (फाइल)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • बिहार में स्पीकर पद के चुनाव से पहले सियासत तेज
  • सुशील मोदी का आरोप- विधायकों को फोन कर रहे लालू

बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव पर बड़ा आरोप लगाया है. सुशील मोदी ने दावा किया है कि लालू यादव ने जेल से ही भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक को फोन कर उनके साथ आने का लालच दिया. बिहार विधानसभा में स्पीकर पद के लिए चुनाव होना है, उससे पहले ये सियासी हलचल तेज हो गई है. 

सुशील मोदी की ओर से ऑडियो जारी कर दावा किया गया है कि लालू यादव ने जेल से भारतीय जनता पार्टी के विधायक ललन पासवान को फोन किया, मंत्री पद का लालच दिया और उनके साथ आने को कहा. लल्लन पासवान बिहार की पीरपैंती विधानसभा सीट से विधायक हैं.

ऑडियो में क्या है?
सुशील मोदी की ओर से जो ऑडियो जारी किया गया है, उसमें लालू यादव की ओर से बीजेपी विधायक को कहा जा रहा है कि वो स्पीकर के चुनाव के वक्त अनुपस्थित हो. बोल दो कि कोरोना हो गया है. जवाब में बीजेपी विधायक की ओर से कहा गया है कि वो पार्टी में हैं, ऐसे में दिक्कत होगी.

सुशील मोदी द्वारा जारी ऑडियो में लालू यादव विधायक से कहते नजर आ रहे हैं कि वो उनका साथ दें तो मंत्री बनाएंगे. (बता दें कि ये ऑडियो बीजेपी की ओर से जारी किया गया है, aajtak.in इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

देखें: आजतक LIVE TV 

लालू यादव ने जिन बीजेपी विधायक को फोन किया, उन लल्लन यादव का दावा है कि जब फोन आया तब वो सुशील मोदी के साथ ही थे. ऐसे में जब उनके पीए ने लालू यादव के फोन की जानकारी दी, तो वो हैरान हुए. लेकिन उन्होंने बाद में बात की.

अब इस ऑडियो के सामने आने के बाद बीजेपी के विधायक नीरज सिंह ने मांग की है कि लालू यादव को रांची से शिफ्ट करके तिहाड़ जेल में भेज देना चाहिए. हालांकि, राजद की ओर से कहा गया है कि सुशील मोदी का आरोप बेबुनियाद है और काफी लोग लालू यादव की आवाज निकाल सकते हैं.

बता दें कि इससे पहले सुशील मोदी ने मंगलवार को ही एक ट्वीट किया था, जिसमें उन्होंने एक नंबर जारी करते हुए कहा था कि लालू यादव जेल से बीजेपी विधायकों को फोन कर रहे हैं. सुशील मोदी ने दावा किया था कि उन्होंने जब वापस उस नंबर पर फोन किया तो लालू यादव ने ही फोन उठाया, जिसके बाद उन्होंने उनसे ऐसा ना करने को कहा.

गौरतलब है कि बिहार में इस बार विधानसभा स्पीकर पद के लिए चुनाव होना है. एनडीए के लिए बीजेपी की ओर से विजय सिन्हा और विपक्ष की ओर से राजद के अवध बिहारी चौधरी मैदान में हैं. बिहार में ऐसा करीब 5 दशक के बाद हो रहा है, जब स्पीकर पद के लिए चुनाव हो रहा हो. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें