scorecardresearch
 

AAP के नए राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य चुने गए, पंजाब-उत्तराखंड से लेकर गोवा तक के नेता नियुक्त

दिल्ली में आज आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक हुई, इसमें राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्यों का चुनाव हुआ. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित दिल्ली सरकार के मंत्रिमंडल के तमाम बड़े चेहरों को शामिल किया गया.

X
आम आदमी पार्टी के नए राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य चुने गए आम आदमी पार्टी के नए राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य चुने गए
स्टोरी हाइलाइट्स
  • AAP के नए राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य चुने गए
  • पंजाब-उत्तराखंड से लेकर गोवा तक के नेता नियुक्त

दिल्ली में आज आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक हुई, इसमें राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्यों का चुनाव हुआ. मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित दिल्ली सरकार के मंत्रिमंडल के तमाम बड़े चेहरे, राज्यसभा सांसद, पार्टी के तमाम बड़े नेता और प्रवक्ताओं के अलावा उत्तराखंड, गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा और पंजाब के आम आदमी पार्टी नेताओं को भी राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया है.

आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में कई नए चेहरे जुड़े, AAP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में हैं कुल 34 सदस्य :

1. अरविंद केजरीवाल, 2. मनीष सिसोदिया, 3. सत्येंद्र जैन, 4. गोपाल राय, 5. इमरान हुसैन, 6. राखी बिड़लान,7. आतिषी, 8. दुर्गेश पाठक, 9. राघव चड्ढा, 10. एन डी गुप्ता, 11. दिलीप पांडेय, 12. संजय सिंह, 13. प्रीति मेनन, 14. पंकज गुप्ता, 15. राजेन्द्र पाल गौतम, 16. दिनेश मोहनिया, 17. गुलाब सिंह, 18. कैप्टन शालिनी सिंह, 19. आदिल खान, 20. बलजिंदर कौर, 21. अमन अरोरा, 22. हरपाल चीमा, 23. सरबजीत कौर, 24. डॉ अल्ताफ आलम, 25. महेश बाल्मीकि, 26. नीलम यादव, 27. वेन्ज़ी वेगस, 28. इशुदान गांधवी, 29. पृथ्वी रेड्डी, 30. गोपाल इटालिया, 31. भगवंत मान, 32. सुशील गुप्ता, 33. कर्नल अजय कोठीयाल, 34. राहुल म्हामरे

आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि बीते डेढ़-2 साल से पूरा देश और दुनिया इस सदी की सबसे मुश्किल महामारी से जूझ रहा है. 1918 के आसपास स्पेनिश फ्लू आया था, वो भी इसी तरह खतरनाक था. अब 100 साल के बाद इस तरह की बीमारी आई है

उन्होंने कहा कि महामारी के दौरान आम आदमी पार्टी की दिल्ली सरकार ने अपने स्तर पर बहुत अच्छे प्रयास किए, जिसकी चर्चा चारों तरफ है. ये दिल्ली के दो करोड़ लोगों का प्रयास है. प्लाजमा थेरेपी दिल्ली में पहली बार इस्तेमाल की गई, दुनिया का पहला प्लाज्मा बैंक दिल्ली में ही खुला.

उन्होंने कहा कि दिल्ली ने होम आइसोलेशन की टेक्निक पूरी दुनिया को दी है. इस दौरान कोरोना इलाज में डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ शहीद हुए तो उनके परिवार को एक करोड़ रुपये की सम्मान राशि दी गई. हम सब ने मिलकर कोरोना वायरस पर काबू पाया. मैं उम्मीद करता हूं कि तीसरी लहर ना आए. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें