scorecardresearch
 

Bharat Bandh से ट्रैफिक ठप, Rakesh Tikait बोले- हमने पहले ही कहा था लंच के बाद निकलें लोग

Bharat Bandh से ट्रैफिक ठप, Rakesh Tikait बोले- हमने पहले ही कहा था लंच के बाद निकलें लोग

कृषि कानूनों के खिलाफ किसान संगठन फिर से मोर्चे पर उतरे हैं. कृषि कानूनों की अधिसूचना जारी होने के एक साल पूरे होने पर किसान संगठनों ने भारत बंद का आह्लान किया तो कई शहरों में ट्रैफिक इंतजामों की सांसें फूलने लगीं. दिल्ली के बॉर्डर इलाकों में दिन चढ़ने के साथ ही जाम की मुश्किलें शुरु हो गईं. कई किलोमीटर तक वाहनों का काफिला रोड पर नजर आने लगा. आम जनता को हुई इस भारी दिक्कत पर किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि हमने तो पहले ही कहा था कि लंच के बाद घर से निकलें. लेकिन केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर कह रहे हैं कि हमने कभी दरवाजा नहीं बंद किया था, वो आज भी खुले हैं. किसान संगठन जब चाहे बेहिचक बातचीत के लिए आगे आ जाएं, उनका स्वागत है. देखिए ये रिपोर्ट.

Normal life was hit as farmers blocked highways, roads and squatted on railway tracks at many places in Punjab and Haryana on Monday in view of a "Bharat Bandh" called by farm unions against three agriculture laws of the Centre. When Rakesh Tikait was asked about the trouble the common man faced during the bandh, Tikait said that they already appealed to people to leave home the afternoon. Watch the video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें