scorecardresearch
 

Pegasus जासूसी कांड व‍िवाद: संसद से सड़क तक सियासी तूफान के पीछे का क्या है किस्सा

Pegasus जासूसी कांड व‍िवाद: संसद से सड़क तक सियासी तूफान के पीछे का क्या है किस्सा

दिल्ली से लेकर बिहार तक सियासी तूफान खड़ा हो गया है. ममता बनर्जी ने महुआ के बयान से पल्ला झाड़ लिया है. वहीं RJD ने TMC सांसद के बयान की निंदा की है. संसद में पर्चा फाड़ सियासत पर विपक्ष के नाम ये लोकसभा स्पीकर की बड़ी और कड़ी चेतावनी दे दी है. चेतावनी के पीछे मकसद साफ है कि हंगामा हुआ तो एक्शन होगा. पक्ष और विपक्ष में ठनी हुई है. तनातनी के बीच बुधवार को सियासी लड़ाई आर-पार छिड़ गई है. IT कमेटी के चेयरमैन शशि थरुर ने कथित जासूसी कांड पर बैठक बुलाई थी. बैठक शुरु होने से ऐन पहले कमेटी के BJP सांसदों ने रजिस्टर में दस्तख्त करने से मना कर दिया, जिसके बाद आधिकारिक तौर पर कोरम पूरा नहीं होने की वजह से थरुर को बैठक स्थगित करनी पड़ी. देखें ये वीडियो.

A political storm has arisen from Delhi to Bihar. Mamata Banerjee has distanced herself from Mahua Moitra's statement. At the same time, RJD has condemned the statement of TMC MP. In the name of the opposition, the Lok Sabha speaker has given a big and stern warning to the opposition on the politics. The motive behind the warning is clear that if there is a ruckus, action will be taken. Amidst the tension, the political battle broke out on Wednesday. IT committee chairman Shashi Tharoor had called a meeting on the alleged espionage scandal. Just before the meeting, BJP MPs from the committee refused to sign the register, following which Tharoor had to adjourn the meeting due to a lack of official quorum. Watch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें