scorecardresearch
 

JK: सेना के लिए काम करते थे Shaukat, आतंकियों की बर्बरता की वजह से गंवाया पैर! बयां किया दर्द

JK: सेना के लिए काम करते थे Shaukat, आतंकियों की बर्बरता की वजह से गंवाया पैर! बयां किया दर्द

कश्मीर में एक हफ्ते में आतंकियों के साथ चार मुठबेड़ हुई जिसमें बारह आतंकियों का काम तमाम हो गया. अगर पिछले साल से तुलना करें तो मई में पंद्रह आतंकियों का सफाया हुआ है. शौकत मुहम्मद जो की भारतीय सेना के लिए पोर्टर का काम करने वाली टीम में थे, वो इस मुठबेड़ में अपना एक पैर गवां चुके हैं. आतंकियों की बर्बरता की वजह से उन्होंने अपना पैर गंवा दिया. वहीं उनके एक साथी की तो घुसपैठियों ने जान ही ले ली थी. देखें आजतक के साथ खास बातचीत में शौकत ने बयां किया अपना दर्द.

In Kashmir, there were four encounters held with terrorists in a week, in which twelve terrorists were shot dead. If compared to last year, 15 terrorists have been killed in May. Shaukat Muhammad, who was in the team working as a porter for the Indian Army, has lost a leg in this encounter. He lost his leg because of the brutality of the terrorists. At the same time, one of his companions was killed by the intruders. In a special conversation with Aaj Tak, Shaukat expressed his pain. Watch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें