scorecardresearch
 

Farmers' Protest: दो धड़ों में बंटे किसान संगठन, आंदोलन खत्म करने को लेकर मतभेद

Farmers' Protest: दो धड़ों में बंटे किसान संगठन, आंदोलन खत्म करने को लेकर मतभेद

कृषि कानून वापसी के बाद आंदोलन वापसी को लेकर संगठनों में मतभेद खुलकर सामने आ गए हैं. किसानों का एक धड़ आंदोलन वापसी के मूड में हैं और उसका कहना है कि मांगे मानी जा चुकी है और एमएमसपी पर कमेटी भी बन रही है तो उधर टिकैत आंदोलन पर डटे हुए हैं. आज सिंघु बॉर्डर पर होने वाली 40 संगठनों की बैठक रद्द कर दी गई है लेकिन दोपहर एक बजे पंजाब के 32 संगठनों की मीटिंग होगी. संयुक्त किसान मोर्चा के कई संगठनों ने इस बैठक से किनारा करने की कोशिश की है. संयुक्त किसान मोर्चा की बडी बैठक चार दिसंबर को होगी जिसमें वापसी पर आखिरी फैसला होगा. देखें ये वीडियो.

After the withdrawal of farm laws, differences have come to the fore in the organizations regarding the repeal of laws. A section of farmers are in the mood to return to the movement and they say that the demands have been accepted and a committee is also being formed on the MSP, while the Tikait is adamant on the movement. The meeting of 40 organizations to be held on the Singhu border today has been canceled. A mega meeting of the United Kisan Morcha will be held on December 4, in which the final decision will be taken on the return. Watch this video.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×