scorecardresearch
 

बंगालः मां की मौत के बाद 2 दिन तक शव के साथ रही 60 साल की बेटी, फ्लैट से बदबू आई तब चला पता

पश्चिम बंगाल के हुगली जिले में एक चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक 60 साल की बेटी अपनी मां की मौत के बाद भी दो दिन तक उसके शव के साथ ही रही. उसने किसी को भी अपनी मां की मौत की खबर नहीं दी. बाद में जब फ्लैट से बदबू आनी शुरू हुई तो इस बारे में पता चला.

इसी फ्लैट में रहती थी मां-बेटी इसी फ्लैट में रहती थी मां-बेटी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • दो दिन तक मां के शव के साथ रही बेटी
  • पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा
  • बेटी की काउंसिलिंग भी कराई जा रही है

पश्चिम बंगाल (West Bengal) के हुगली (Hooghly) में एक बेहद ही चौंकाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक 60 साल की बेटी अपनी मां के शव के साथ दो दिन तक रही. उसने किसी को भी अपनी मां की मौत के बारे में खबर नहीं दी. बाद में जब फ्लैट से बदबू आनी शुरू हुई तो पड़ोसियों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी. पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. बेटी की काउंसिलिंग कराई जा रही है.

घटना हुगली के चंदनगर नगर निगम के मानकुंडू इलाके की है. इसी इलाके में एक बहुमंजिला इमारत में एक फ्लैट में 60 वर्षीय असीमा साहा अपनी 83 वर्षीय मां निर्मलाबाला साहा के साथ रहती थी. दो दिन पहले ही निर्मलाबाला की मौत हो गई थी, लेकिन उनकी बेटी असीमा ने इसकी जानकारी किसी को नहीं दी और घर पर ही उनके शव को रखकर रखा. 

दो दिन बाद जब घर से तेज बदबू आनी शुरू हुई तो पड़ोसियों को शक हुआ. पड़ोसियों ने इसकी जानकारी तुरंत पुलिस (Police) को दी. पुलिस ने जब आकर देखा तो पाया कि फ्लैट में निर्मलाबाला की लाश पड़ी हुई है. पुलिस ने इसके बाद उनके शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया. 

असीमा साहा

ये भी पढ़ें-- UP: रात में सो रही मां को जगाया फिर बेटी ने प्रेमी से करवा दी हत्या, ऐसे सुलझी कत्ल की गुत्थी

बताया जा रहा है कि निर्मलाबाला की दो संतानें हैं. उनका छोटा बेटा नदिया जिले के कल्याणी में अपने परिवार के साथ रहता है. मानकुंडू के फ्लैट में बुजुर्ग मां अपनी बेटी के साथ रहती थी. पड़ोसियों का कहना है कि मां-बेटी चुपचाप रहती थी और आस-पड़ोस के लोगों से भी बहुत कम मिलती थी.

फिलहाल पुलिस ने उनके शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है. उनकी बेटी निर्मला की मानसिक हालत सही नहीं बताई जा रही थी, जिस कारण उन्हें काउंसिलिंग के लिए मनोवैज्ञानिक के पास भेज दिया गया है.

(रिपोर्टः भोलानाथ साहा)

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें