scorecardresearch
 

ट्विटर ने उमर खालिद के हैंडल का भी ब्लू टिक हटाया, लंबे वक्त से नहीं है एक्टिव

दिल्ली दंगों से जुड़े मामले में आरोपी और जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद के ट्विटर अकाउंट पर ट्विटर ने एक्शन लिया है. ट्विटर द्वारा उमर खालिद के अकाउंट का ब्लू टिक हटा दिया गया है. 

उमर खालिद के ट्विटर अकाउंट पर एक्शन उमर खालिद के ट्विटर अकाउंट पर एक्शन
स्टोरी हाइलाइट्स
  • उमर खालिद के अकाउंट पर ट्विटर का एक्शन
  • लंबे वक्त से एक्टिव नहीं है ट्विटर अकाउंट

दिल्ली दंगों से जुड़े मामले में आरोपी और जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी के पूर्व छात्र नेता उमर खालिद के ट्विटर अकाउंट पर ट्विटर ने एक्शन लिया है. ट्विटर द्वारा उमर खालिद के अकाउंट का ब्लू टिक हटा दिया गया है. 

उमर खालिद के ट्विटर अकाउंट से सितंबर, 2020 यानी कि 9 महीने से कोई ट्वीट नहीं किया गया है. ट्विटर कह चुका है कि अगर कोई अकाउंट 6 महीने तक एक्टिव नहीं रहता है, तो ब्लू टिक वापस लिया जा सकता है. 


उमर खालिद पर दिल्ली दंगों के दौरान हिंसा भड़काने का आरोप लगा था, लंबे वक्त से वह जेल में बंद हैं. हाल ही में वह जब चर्चा में आए थे, जब दिल्ली पुलिस ने उमर खालिद और खालिद सैफी को हथकड़ी पहनाकर पेश करने की इजाजत मांगी थी, हालांकि कोर्ट ने इजाजत देन से इनकार कर दिया था. 

ब्लू टिक को लेकर लगातार जारी है विवाद
आपको बता दें कि ट्विटर द्वारा हाल ही में ब्लू टिक यानी ट्विटर वेरिफिकेशन की नई नीति लॉन्च की गई है. हाल ही में ट्विटर द्वारा उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू, संघ प्रमुख मोहन भागवत समेत अन्य कई हस्तियों के अकाउंट से ब्लू टिक हटा दिए गए थे, जिसपर काफी विवाद हुआ था. 

ट्विटर द्वारा लिए गए इस एक्शन पर भारत सरकार द्वारा आपत्ति जाहिर की गई थी, हालांकि बाद में ट्विटर ने ब्लू टिक लौटा दिए थे.  

भारत सरकार और ट्विटर के बीच लंबे वक्त से नए आईटी रूल्स को लेकर विवाद चल रहा है. ट्विटर नियमों के पालन में कुछ वक्त मांग रहा है, जबकि सरकार की ओर से बार-बार उसपर दबाव बनाया जा रहा है. 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×