scorecardresearch
 

PM Narendra Modi का परिवारवाद पर वार, सुखबीर सिंह बादल ने किया पलटवार

संविधान दिवस पर अपने भाषण में पीएम मोदी ने परिवारवाद से जुड़ी राजनीतिक पार्टियों को लोकतंत्र के लिए खतरा बताया. इस पर शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने पलटवार किया है.

X
पीएम मोदी के बयान पर सुखबीर सिंह बादल ने पलटवार किया है. पीएम मोदी के बयान पर सुखबीर सिंह बादल ने पलटवार किया है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • PM Narendra Modi का परिवारवाद पर वार
  • सुखबीर सिंह बादल ने किया पलटवार
  • सिद्धू को लेकर सुखबीर का आपत्‍तिजनक बयान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार को संसद में आयोजित संविधान दिवस समारोह में शामिल हुए. अपने भाषण में पीएम ने परिवारवाद से जुड़ी राजनीतिक पार्टियों को लोकतंत्र के लिए खतरा बताया. इस पर शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने पलटवार किया है. बादल ने कहा कि सबसे ज्यादा परिवारवाद तो भारतीय जनता पार्टी के अंदर ही है. बीजेपी के तमाम नेता परिवारवाद को आगे बढ़ा रहे हैं.  

एसएडी नेता सुखबीर सिंह बादल ने अपने बयान में कहा- 'मैं अगर चाहूं तो भारतीय जनता पार्टी के ऐसे 100 परिवारों और उन परिवारों से जुड़े नेताओं के उदाहरण दे सकता हूं, जो सीधे तौर पर परिवारवाद से जुड़े हैं.' सुखबीर सिंह ने हिमाचल प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और वरिष्ठ बीजेपी नेता प्रेम कुमार धूमल और उनके बेटे अनुराग ठाकुर का उदाहरण देते हुए कहा कि जिनकी खुद की राजनीतिक पार्टी में यह सब कुछ चल रहा हो, वो दूसरों को नसीहत ना ही दें. बता दें कि हमीरपुर से बीजेपी सांसद केंद्र सरकार में सूचना एवं प्रसारण और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री हैं.

पीएम मोदी ने परिवारवाद पर साधा निशाना

दरअसल, प्रधानमंत्री मोदी ने संविधान दिवस के मौके पर, किसी पार्टी या परिवार का नाम लिए बगैर कहा कि परिवार आधारित पार्टियों के रूप में भारत एक तरह के संकट की तरफ बढ़ रहा है. पीएम ने कहा- 'भारत एक ऐसे संकट की ओर बढ़ रहा है, जो संविधान को समर्पित लोगों के लिए चिंता का विषय है, लोकतंत्र के प्रति आस्था रखने वालों के लिए चिंता का विषय है और वह है पारिवारिक पार्टियां.' पीएम ने आगे कहा- 'योग्यता के आधार पर एक परिवार से एक से अधिक लोग जाएं, इससे पार्टी परिवारवादी नहीं बन जाती है. समस्या तब आती है जब एक पार्टी पीढ़ी दर पीढ़ी एक ही परिवार द्वारा चलाई जाती है.' उन्होंने कहा कि संविधान की भावना को भी चोट पहुंची है, संविधान की एक-एक धारा को भी चोट पहुंची है, जब राजनीतिक दल अपने आप में अपना लोकतांत्रिक कैरेक्टर खो देते हैं. मोदी ने यह भी कहा कि जो दल स्वयं लोकतांत्रिक कैरेक्टर खो चुके हों, वो लोकतंत्र की रक्षा कैसे कर सकते हैं.

सिद्धू को लेकर आपत्तिजनक बयान

अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया. बादल ने कहा- 'नवजोत सिंह सिद्धू मानसिक रूप से पागल हो चुका है और हर हाल में अकाली दल के नेताओं को राजनीतिक द्वेष के चलते झूठे मुकदमों में फंसाकर जेल पहुंचाना चाहता है.'

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें