scorecardresearch
 

लद्दाख बॉर्डर पर तनाव का असर, श्रीनगर-लेह हाइवे आम लोगों के लिए बंद

भारत और चीन के बीच बॉर्डर पर फिर हालात तनावपूर्ण हो गए हैं. चीनी सेना ने समझौते को तोड़ते हुए घुसपैठ की कोशिश की, जिसे नाकाम कर दिया गया. हालांकि अब बॉर्डर पर हालात तनावपूर्ण हैं.

तनाव के बाद बंद किया गया है हाइवे (फाइल फोटो: PTI) तनाव के बाद बंद किया गया है हाइवे (फाइल फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लद्दाख बॉर्डर पर फिर तनावपूर्ण हुए हालात
  • श्रीनगर-लेह हाइवे आम लोगों के लिए बंद
  • सेना के वाहनों के लिए खुला रहेगा हाइवे

चीन ने एक बार फिर लद्दाख बॉर्डर पर घुसपैठ करने की कोशिश की है. चीनी सेना PLA की इस कोशिश को भले ही भारतीय सेना के जवानों ने नाकाम कर दिया हो, लेकिन इस वक्त हालात फिर तनावपूर्ण हो गए हैं. इस घटना के बाद श्रीनगर-लेह हाइवे को आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया है. अब इस हाइवे का इस्तेमाल सिर्फ सेना के वाहनों के लिए किया जाएगा.

लद्दाख बॉर्डर पर तेज हुई हलचल के बाद सोमवार सुबह ये फैसला लिया गया. इसके अलावा पैंगोंग झील के आसपास जो स्थानीय लोग रहते हैं उन्हें भी सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया है.

आपको बता दें कि रक्षा मंत्रालय के द्वारा जारी बयान के मुताबिक, 29-30 अगस्त की रात को चीनी सेना ने ईस्टर्न लद्दाख में पैंगोंग झील के पास घुसपैठ की कोशिश की. पिछली बैठकों में दोनों देशों की सेनाओं के बीच जो बैठकें हुईं और जो कुछ तय हुआ था, उस वादे को तोड़ने का काम किया गया.

भारतीय सेना के जवानों ने चीन की हर कोशिश को नाकाम किया, ऐसे में अब लद्दाख बॉर्डर पर फिर अलर्ट बढ़ गया है. हालांकि, दोनों देशों के बीच ब्रिगेड कमांडर लेवल की बातचीत की जा रही है. ताकि स्थिति को काबू में लाया जा सके.

गौरतलब है कि मई के महीने से ही दोनों देशों के बीच तनाव की स्थिति बनी हुई थी, जिसके बाद 14 जून को दोनों देशों की सेनाओं में झड़प हुई थी. इसी झड़प में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हुए थे, तभी से भारत ने बॉर्डर पर सैनिकों की मौजूदगी बढ़ा दी थी. और चीन के द्वारा पैदा की जा रही हर स्थिति पर नज़र रखी जा रही थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें