scorecardresearch
 

साइकिल से दफ्तर पहुंचे रॉबर्ट वाड्रा, पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर केंद्र सरकार को घेरा

पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों के मसले पर केंद्र सरकार विपक्ष के निशाने पर है. सोमवार को बिजनेसमैन रॉबर्ट वाड्रा भी अपने दफ्तर साइकिल से सफर करते हुए पहुंचे और केंद्र सरकार को उन्होंने निशाने पर लिया.

साइकिल से दफ्तर पहुंचे रॉबर्ट वाड्रा (PTI) साइकिल से दफ्तर पहुंचे रॉबर्ट वाड्रा (PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर रार
  • साइकिल से दफ्तर पहुंचे रॉबर्ट वाड्रा

केंद्र की मोदी सरकार लगातार पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर निशाने पर है. सोमवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के पति रॉबर्ट वाड्रा ने भी अनोखे तरीके से इस मसले पर केंद्र सरकार का विरोध किया. सोमवार को रॉबर्ट वाड्रा अपने दफ्तर तक साइकिल की सवारी कर पहुंचे, उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को आम लोगों के दुख को समझना चाहिए.

रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि अगर मैं आम आदमी की मुश्किलों के बारे में बोलना है, तो मुझे उनकी तकलीफ को समझना पड़ेगा. रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि आज आम लोगों ने अपनी बाइक-स्कूटर घर पर रख दिए हैं, क्योंकि पेट्रोल-डीजल महंगा है.

केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि बीजेपी लगातार सवाल उठाने वालों पर निशाना साधती है, अब मैं ये मुद्दा उठा रहा हूं तो वो मुझे देशद्रोही भी कह सकते हैं.


बीजेपी द्वारा सवाल उठाने पर रॉबर्ट वाड्रा ने कहा कि मेरा परिवार मुझे सुरक्षित देखना चाहता है, इसलिए मेरे साथ सुरक्षा चल रही है. लेकिन वो इससे रुकेंगे नहीं और ऐसे ही साइकिल से ही दफ्तर का सफर करते रहेंगे.

आपको बता दें कि रॉबर्ट वाड्रा लगातार सोशल मीडिया के जरिए केंद्र सरकार को निशाने पर लेते रहे हैं. इसके अलावा लॉकडाउन के दौरान भी उन्होंने प्रवासी मजदूरों की मदद की थी और केंद्र सरकार को निशाने पर लिया था.

रॉबर्ट वाड्रा से पहले सोमवार को ही कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी ट्विटर के जरिए केंद्र सरकार को पेट्रोल-डीजल के मसले पर आड़े हाथों लिया था. राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार कच्चा तेल सस्ता होने के बावजूद आम आदमी को पेट्रोल-डीजल महंगे में दे रही है और अपने मित्रों को फायदा पहुंचा रही है. 

 


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें