scorecardresearch
 

राहुल का केंद्र पर निशाना, बोले- बैंक मुसीबत में हैं और GDP भी, विकास या विनाश?

राहुल गांधी ने ट्वीट करके कहा कि बैंक मुसीबत में हैं और जीडीपी भी. महंगाई इतनी ज़्यादा कभी नहीं थी, ना ही बेरोज़गारी. जनता का मनोबल टूट रहा और सामाजिक न्याय प्रतिदिन कुचला जा रहा है. विकास या विनाश?

X
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो-PTI) कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राहुल बोले- जनता का मनोबल रोज टूट रहा है
  • राहुल ने महंगाई, जीडीपी का उठाया मसला

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर हमला बोला है. राहुल ने ट्वीट करके कहा कि बैंक मुसीबत में हैं और जीडीपी भी. महंगाई इतनी ज़्यादा कभी नहीं थी, ना ही बेरोज़गारी. जनता का मनोबल टूट रहा और सामाजिक न्याय प्रतिदिन कुचला जा रहा है. विकास या विनाश?

आपको बता दें कि आरबीआई ने लक्ष्मी विलास के बाद एक और बैंक पर पाबंदी लगा दी है. हालांकि, ये पाबंदी महाराष्ट्र के जालना जिले में मंता अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक पर लगी है. आरबीआई के मुताबिक. उसने इस बैंक को कुछ निर्देश दिए हैं, जो 17 नवंबर 2020 को बैंक बंद होने के बाद से छह माह तक प्रभावी होंगे.

इन निर्देशों के अनुसार, यह बैंक आरबीआई की अनुमति के बिना कोई कर्ज या उधार नहीं दे सकेगा और न ही पुराने कर्जों का नवीनीकरण या कोई निवेश कर सकेगा. बैंक पर नई जमा राशि स्वीकार करने पर भी पाबंदी लगा दी गई है. वह कोई भुगतान भी नहीं कर सकेगा और ना ही भुगतान करने का कोई समझौता कर सकेगा. हालांकि, आरबीआई ने पाबंदी का आधार नहीं बताया है.

इससे पहले वित्तीय संकट से गुजर रहे निजी क्षेत्र के लक्ष्मी विलास बैंक पर एक महीने तक के लिए पाबंदियां लगा दी गई हैं. इस पाबंदी में बैंक का कोई खाताधारक ज्यादा से ज्यादा 25,000 रुपये तक की निकासी कर सकेगा. बैंक की खस्ता वित्तीय हालत को देखते हुए यह कदम उठाया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें