scorecardresearch
 

नए मंत्रियों का लोकसभा में परिचय करवाएंगे पीएम मोदी, सभी सदस्यों को कल सदन में बुलाया

मोदी सरकार ने 7 जुलाई को मंत्रिमंडल विस्तार किया था. दूसरी बार केंद्र में सरकार बनने के बाद यह पहला विस्तार था. मंत्रिमंडल विस्तार में 15 सदस्यों को कैबिनेट मंत्री बनाया गया. जबकि 28 मंत्रियों को राज्य मंत्री की शपथ दिलाई गई.

मोदी 2.0 कैबिनेट का 7 जुलाई को विस्तार हुआ था. (फोटो- पीआईबी) मोदी 2.0 कैबिनेट का 7 जुलाई को विस्तार हुआ था. (फोटो- पीआईबी)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मॉनसून सत्र में मंत्रियों का परिचय करवाएंगे पीएम
  • मोदी सरकार ने 7 जुलाई को मंत्रिमंडल विस्तार किया था

संसद का मॉनसून सत्र सोमवार यानी कि 18 जुलाई से शुरू हो रहा है. इस सत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल किए गए नए मंत्रियों और प्रमोशन वाले सदस्यों का लोकसभा में परिचय करवाएंगे. इसके लिए सभी मंत्रियों से कल सुबह 10.45 बजे लोकसभा में पहुंचने के लिए कहा गया है. 

7 जुलाई को हुआ था मंत्रिमंडल विस्तार 

मोदी सरकार ने 7 जुलाई को मंत्रिमंडल विस्तार किया था. दूसरी बार केंद्र में सरकार बनने के बाद यह पहला विस्तार था. मंत्रिमंडल विस्तार में 15 सदस्यों को कैबिनेट मंत्री बनाया गया. जबकि 28 मंत्रियों को राज्य मंत्री की शपथ दिलाई गई. 

पीएम मोदी ने अपने कुछ मंत्रियों के अच्छे काम को देखते हुए प्रमोशन भी किया. अनुराग ठाकुर, किरन रिजिजू, पुरुषोत्तम रुपाला, मनसुख मंडाविया, आर के सिंह, हरदीप सिंह पुरी और जी किशन रेड्डी को राज्य मंत्री से कैबिनेट मंत्री बनाया गया. 

13 अगस्त तक चलेगा सत्र 

मॉनसून सत्र की शुरुआत से पहले सोमवार को लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला (Lok Sabha Speaker Om Birla) ने संसद का दौरा किया और सत्र की तैयारियों का जायजा लिया. स्पीकर ने जानकारी दी कि मॉनसून का सत्र 19 जुलाई से 13 अगस्त तक चलेगा. इसमें 19 बैठक (कामकाज के दिन) होंगी. कोरोना के खतरे को देखते हुए मॉनूसन सत्र के लिए उसी हिसाब से तैयारियां की गई हैं. संसद में RT-PCR की सुविधा 24 घंटे उपलब्ध रहेगी. ज्यादातर सांसद और स्टाफ ने कोरोना वैक्सीन लगवा लिया है. 

स्पीकर ने बताया कि 18 जुलाई को सदन के फ्लोर लीडर की बैठक होगी. उसके बाद सदन की कार्यवाही चलाने के लिए बिजनेस एडवाइजरी कमेटी की बैठक होगी. लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला ने आगे कहा कि सभी दलों से आग्रह है कि जिस तरह का अभी तक जो सहयोग संसद को चलाने में मिला है, आगे भी वैसा ही मिलता रहे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें