scorecardresearch
 

उपचुनावः टिकट बेचने के आरोप पर हार्दिक पटेल ने BJP नेता को भेजा नोटिस, कहा-सबूत दें, वरना केस करेंगे

हार्दिक पटेल द्वारा भेजे गए मानहानि कानूनी नोटिस में कहा गया है कि किशोर चिखलिया को 10 दिनों के भीतर हार्दिक के खिलाफ लगाए गए आरोपों का सबूत देना होगा. नहीं तो हार्दिक से माफी मांगें और उसका पत्र मीडिया को दें. उनके इस बयान से हार्दिक की छवि धूमिल हुई है.

कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने बीजेपी नेता को नोटिस भेजा (फाइल फोटो) कांग्रेस नेता हार्दिक पटेल ने बीजेपी नेता को नोटिस भेजा (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • उपचुनाव से पहले BJP में शामिल हुए किशोर चिखलिया
  • 10 दिनों के अंदर बयान को लेकर खुलासा करने की मांग
  • मेरा नाम फाइनल था, लेकिन बाद में काट दिया गयाः किशोर

उपचुनाव से ठीक पहले मोरबी जिला पंचायत अध्यक्ष पद से इस्तीफा देने वाले कांग्रेस के नेता किशोर चिखलिया ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ज्वाइन कर लिया है. पार्टी बदलने के साथ ही चिखलिया के बोल भी बदल गए हैं. पार्टी छोड़ने के साथ उन्होंने कांग्रेस पर जमकर हमला बोलते हुए हार्दिक पटेल और ललित कगथरा पर टिकट का व्यापार करने का आरोप लगाया था. अब इसी मामले पर हार्दिक पटेल ने अपने वकील के जरिए उनको लीगल नोटिस भेजा है.

कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने अपने वकील आनंद याज्ञनिक के जरिए किशोर चिखलिया को नोटिस भेजा है जिसमें 10 दिनों के अंदर विवादस्पाद बयान को लेकर खुलासा करने की मांग की गई है. किशोर चिखलिया ने पार्टी छोड़ने के बाद कहा था, 'मेरा नाम फाइनल था, लेकिन पैसे की वजह से हार्दिक पटेल और ललित कगथरा ने मेरे नाम पर पार्टी की मुहर नहीं लगने दिया जिससे नाराज होकर में मैंने पार्टी से इस्तीफा दे दिया है.'

हार्दिक पटेल द्वारा भेजे गए मानहानि कानूनी नोटिस में कहा गया है कि किशोर चिखलिया को 10 दिनों के भीतर हार्दिक के खिलाफ लगाए गए आरोपों का सबूत देना होगा. नहीं तो हार्दिक से माफी मांगें और उसका पत्र मीडिया को दें. उनके इस बयान से हार्दिक की छवि धूमिल हुई है. अगर 10 दिनों के भीतर कोई सबूत पेश नहीं किया जाता है, तो हार्दिक पटेल उनके खिलाफ आपराधिक और मानहानि का मुकदमा दायर कर सकते हैं. 

देखें: आजतक LIVE TV 

किशोर चिखलिया मोरबी जिला पंचायत के अध्यक्ष हैं, उपचुनाव को लेकर वह मोरबी सीट के प्रबल दावेदार माने जा रहे थे, लेकिन टिकट नहीं मिलने से नाराज उन्होंने कांग्रेस का साथ छोड़कर बीजेपी का दामन थाम लिया.

मोरबी उपचुनाव से पहले होने वाला यह बदलाव कांग्रेस के लिए नई चुनौती बन गई है. किशोर चिखलिया ने इस मौके पर कांग्रेस कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उन्होंने कहा कि हार्दिक पटेल के इशारे पर ही जयंती पटेल को मोरबी सीट का टिकट मिला है. इतना ही नहीं उन्होंने हार्दिक पटेल और ललित कगथरा पर टिकट का व्यापार करने का आरोप लगाया.


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें