scorecardresearch
 

मणिपुरः नोनी में हुए भूस्खलन में अब तक 20 लोगों की मौत, सेना का रेस्क्यू ऑपरेशन जारी

मणिपुर के नोनी में 29 जून को हुए भूस्खलन में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि कई लोग लापता बताए जा रहे हैं. सीएम बीरेन सिंह ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए के मुआवजे की घोषणा की है.

X
मणिपुर के नोनी में हुए भूस्खलन में कई लोग अभी भी लापता है मणिपुर के नोनी में हुए भूस्खलन में कई लोग अभी भी लापता है
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 29 जून को हुआ था भूस्खलन
  • सेना चला रही रेस्क्यू ऑपरेशन

मणिपुर में 29 जून को नोनी जिले में हुए भूस्खलन में अब तक 20 लोगों की मौत हो चुकी है. यहां बड़े पैमाने पर रेस्क्यू का काम जारी है. भारतीय सेना ने कहा कि मणिपुर में भूस्खलन के बाद लापता हुए तलाश जारी है. रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है. इसके साथ ही प्रादेशिक सेना के 15 लापता जवानों और 29 स्थानीय लोगों की तलाश जारी है.

एजेंसी के मुताबिक अब तक 13 प्रादेशिक सेना के जवानों और 5 स्थानीय नागरिकों को सुरक्षित बचा लिया गया है, जबकि प्रादेशिक सेना के 15 जवानों और 5 लोगों के शव बरामद हो चुके हैं. मणिपुर के नोनी में बुधवार रात टुपुल रेलवे निर्माण स्थल पर भूस्खलन हुआ. भूस्खलन में घायल होने वाले लोगों का इलाज नोनी आर्मी मेडिकल अस्पताल में किया जा रहा है. 

लापता लोगों को बचाने के लिए तलाशी अभियान जारी है. वहीं इससे पहले नोनी जिले के एसडीओ सोलोमन एल फिमेट ने बताया था कि अभी भी 40 से ज्यादा लोग लापता हैं.  गांव वालों ने भी एक बच्चे समेत पांच लोगों के लापता होने की बात कही है. 

मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने मृतकों के परिजन को पांच-पांच लाख रुपये और घायलों में से 50-50 हजार रुपये के मुआवजे की घोषणा की है. इसके साथ ही सीएम ने घटनास्थल का दौरा किया. इसके साथ ही बचाव अभियान में लगे कर्मियों को प्रोत्साहित किया. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें