scorecardresearch
 

मानव अधिकार आयोग ने CM Mamata Banerjee के खिलाफ शिकायत क्यों दर्ज की?

NHRC की तरफ से सीएम ममता बनर्जी और कोलकाता पुलिस आयुक्त के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है. आरोप है कि कोलकाता नगर निगम चुनाव के दौरान हिंसा की गई थी. कांग्रेस प्रत्याशियों की पिटाई हुई थी.

X
सीएम ममता बनर्जी ( पीटीआई) सीएम ममता बनर्जी ( पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पिछले साल कोलकाता नगर निगम चुनाव में हुई थी हिंसा
  • कांग्रेस का आरोप- टीएमसी ने प्रत्याशियों को पीटा था

राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग (NHRC) ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और कोलकाता के पुलिस आयुक्त के खिलाफ शिकायत दर्ज की है. ये मामला पिछले साल सितंबर में हुए कोलकाता नगर निगम चुनाव से जुड़ा हुआ है. भारतीय युवा कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव अमरीश रंजन पांडे और दूसरे नेता अंबुज दीक्षित की तरफ से शिकायत की गई है.

बताया गया है कि पिछले साल हुए कोलकाता नगर निगम चुनाव में टीएमसी द्वारा बड़े स्तर पर हिंसा की गई थी. विपक्ष के उम्मीदवारों और पार्टी कार्यकर्ताओं को पीटा गया था. आरोप तो ये भी लगाया है कि टीएमसी के गुंडों ने वार्ड 16 के कांग्रेस प्रत्याशी को निर्वस्त्र कर दिया था. वहीं वार्ड 45 में पुलिस के सामने ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं की जमकर पिटाई की गई थी. अब कांग्रेस आरोप लगा रही है कि उस मामले में पुलिस द्वारा कोई एक्शन नहीं लिया गया, ऐसे में अब राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग का द्वार खटखटाया गया है.

अब जानकारी के लिए बता दें कि मानवाधिकार संरक्षण अधिनियम, 1993 की प्रक्रिया के तहत आगे की कार्रवाई को अंजाम दिया जाएगा और एक विस्तृत जांच के बाद एक्शन होगा. इस मामले पर टीएमसी की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं दी गई है. कोलकाता के पुलिस आयुक्त की तरफ से भी कोई बयान जारी नहीं किया गया है.

वैसे बंगाल की राजनीति में हिंसा का सक्रिय होना कोई नई बात नहीं है. कई सालों से हर चुनाव के दौरान ऐसी ही स्थिति देखने को मिलती है. पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान भी टीएमसी और बीजेपी के बीच खूनी संघर्ष देखने को मिला था. दोनों तरफ से एक दूसरे के कार्यकर्ताओं को मारा गया था, भाषा की मर्यादा तोड़ी गई थी और कई तरह के आरोप-प्रत्यारोप लगे थे. अब उस चुनाव के बाद ममता बनर्जी ने फिर अपनी सरकार तो बना ली, लेकिन हिंसा का ये दौर अभी भी जारी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें