scorecardresearch
 

'पीस कॉन्फ्रेंस' में हिस्सा नहीं ले पाएंगी ममता बनर्जी, केंद्र सरकार ने नहीं दी रोम दौरे की इजाजत

बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था, लेकिन वो अब इस कार्यक्रम का हिस्सा नहीं बन पाएंगी. यह कार्यक्रम 6 और 7 अक्टूबर को रोम में होने वाला है.

बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (फाइल फोटो) बंगाल की सीएम ममता बनर्जी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विदेश मंत्रालय ने अनुमति देने से किया इनकार
  • इससे पहले दीदी की चीन यात्रा कैंसिल हुई थी

इटली (रोम) में आयोजित होने वाले वर्ल्ड 'पीस कॉन्फ्रेंस' में बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हिस्सा नहीं ले पाएंगी. भारत सरकार ने उन्हें रोम दौरे की इजाजत देने से इनकार कर दिया है.

विदेश मंत्रालय के मुताबिक, राजनीतिक नजरिये से मंजूरी अस्वीकार की गई है. साथ ही कहा गया है कि यहां किसी राज्य के मुख्यमंत्री की भागीदारी स्थिति के अनुरूप नहीं है. इससे पहले दीदी की चीन यात्रा कैंसिल हुई थी. 

इधर, ममता बनर्जी को रोम जाने की इजाजत नहीं दिए जाने पर टीएमसी की प्रतिक्रिया आई है. पार्टी के युवा नेता देवांग्शु भट्टाचार्य देव ने ट्वीट करके कहा है कि केंद्र सरकार ने दीदी की रोम यात्रा की अनुमति नहीं दी. पहले वे चीन यात्रा की अनुमति भी रद्द कर चुके हैं. हमने अंतरराष्ट्रीय संबंधों और भारत के हितों को ध्यान में रखते हुए उस फैसले को स्वीकार किया. अब इटली क्यों मोदी जी ? बंगाल से आपको क्या दिक्कत है? छी!

बता दें कि बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को कार्यक्रम में आमंत्रित किया गया था, लेकिन वो अब इस कार्यक्रम का हिस्सा नहीं बन पाएंगी. यह कार्यक्रम 6 और 7 अक्टूबर को रोम में होने वाला है. कार्यक्रम के आयोजकों ने जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल, पोप और इटली के शीर्ष राजनीतिक नेताओं को आमंत्रित किया है. उनके साथ बंगाल की मुख्यमंत्री को भी न्यौता मिला था. 

गौरतलब है कि 1987 से हर साल कम्युनिटी ऑफ सेंट एगिडियो (Community of Sant’Egidio) शांति को बढ़ावा देने के लिए असीसी की प्रार्थना करता है. इस दौरान दुनियाभर की हस्तियां यहां आती हैं.

ये पहली बार है जब ममता बनर्जी को इंटरनेशनल पीस कॉन्फ्रेंस में शामिल होने का न्योता दिया गया था. इसके पहले ममता बनर्जी मदर टेरेसा को संत की उपाधि दिए जाने के समय साल 2016 में रोम गईं थीं. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें