scorecardresearch
 

जम्मू कश्मीर में महसूस किए गए भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 4.3 मापी गई तीव्रता

जम्मू कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.3 माफी गई है. राहत की बात है कि किसी के हताहत होने की खबर सामने नहीं आई है.

जम्मू कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए. (प्रतीकात्मक फोटो) जम्मू कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए. (प्रतीकात्मक फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • किसी के हताहत होने की खबर नहीं
  • रिक्टर स्केल पर 4.3 तीव्रता दर्ज की गई

जम्मू कश्मीर में भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.3 माफी गई है. राहत की बात है कि किसी के हताहत होने की खबर सामने नहीं आई है. एनसीएस के मुताबिक जम्मू कश्मीर में भूकंप सुबह 10 बजकर 14 मिनट पर महसूस किया गया. भूकंप 30 किलोमीटर की गहराई में आया था.

इससे पहले  बीते सोमवार को भी जम्मू-कश्मीर में लेह के निकट भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, सोमवार सुबह Alchi(Leh) में  भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर जिसकी तीव्रता 4.2 मापी गई थी. इससे पहले अगस्त महीने के आखिरी सप्ताह में उधमपुर-कटड़ा इलाके में भूकंप के हल्के झटके महसूस किए गए थे. रिक्टर पैमाने पर इसकी तीव्रता 3.6 दर्ज की गई थी.

भूकंप के बुरे प्रभाव से बचने के लिए क्या करें-

-भूकंप महसूस होते ही घर से बाहर निकलकर खुली जगह पर चले जाएं. अगर गली काफी संकरी हो और दोनों ही ओर बहुमंजिला इमारतें बनी हों, तो बाहर निकलने से कोई फायदा नहीं होगा. तब घर में ही सुरक्ष‍ित ठिकाने पर रहें.

-अगर घर से बाहर निकलने में काफी वक्त लगने का अनुमान हो, तो कमरे के कोने में या किसी मजबूत फर्नीचर के नीचे छुप जाएं. सिर के साथ-साथ शरीर के अन्य संवेदनशील अंगों को पहले बचाने की कोशिश करें.

-घर के बाहर निकलकर कभी भी बिजली, टेलीफोन के खंभे या पेड़-पौधों के नीचे न खड़े हों.भूकंप महसूस होते ही टीवी, फ्रिज, जैसे बिजली के सारे उपकरण प्लग से निकाल दें.

-एक बार बहुत तेज भूकंप आने के बाद कुछ घंटों तक आफ्टर शॉक्स आ सकते हैं. इनसे बचने का इंतजाम पहले ही कर लें. आफ्टर शॉक्स आने की कोई तय मियाद नहीं होती है, इसलिए अफवाहों पर बिल‍कुल ही ध्यान न दें.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें