scorecardresearch
 

JEE-NEET: कांग्रेस के विरोध पर बीजेपी का हल्ला बोल, बताया सतही राजनीति

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव ने कहा है कि एक तरफ कांग्रेस जेईई और नीट का विरोध कर रही है. वहीं, दूसरी तरफ राजस्थान की कांग्रेस सरकार 31 अगस्त को प्रतियोगी परीक्षा का आयोजन कर रही है.

X
भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव (फाइल फोटो) भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंद्र यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भूपेंद्र यादव ने ट्वीट कर साधा निशाना
  • कहा- छात्रों के भविष्य की फिक्र नहीं
  • प्रतियोगी परीक्षा करा रही राजस्थान सरकार

देश में संयुक्त प्रवेश परीक्षा (जेईई) और राष्ट्रीय पात्रता एवं प्रवेश परीक्षा (नीट) की परीक्षा तिथि करीब आ रही है. इस मुद्दे पर सियासी घमासान छिड़ा है. छात्रों की ओर से कई दिनों से की जा रही परीक्षा टालने की मांग का समर्थन करते हुए कांग्रेस और कई अन्य दल खुलकर इसके विरोध में उतर आए हैं. कांग्रेस ने परीक्षा टालने की मांग को लेकर 28 अगस्त को पूरे देश में प्रदर्शन किया.

अब केंद्र की सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने भी कांग्रेस पर हल्ला बोल दिया है. भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव भूपेंदर यादव ने ट्वीट कर कांग्रेस पर हमला बोला है. सांसद भूपेंद्र यादव ने ट्वीट कर कांग्रेस पर अपनी सतही राजनीति के लिए जेईई और नीट का विरोध करने का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा है कि कांग्रेस को छात्रों के भविष्य की फिक्र नहीं.

JEE-NEET परीक्षा के खिलाफ कांग्रेस का हल्ला बोल, भूख हड़ताल पर NSUI कार्यकर्ता

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव ने कहा है कि एक तरफ कांग्रेस जेईई और नीट का विरोध कर रही है. वहीं, दूसरी तरफ राजस्थान की कांग्रेस सरकार 31 अगस्त को प्रतियोगी परीक्षा का आयोजन कर रही है. भूपेंद्र यादव ने सवालिया लहजे में कहा है कि कथनी और करनी में इतना फर्क? यादव ने यह ट्वीट 'BJPKaHallaBol' हैशटैग के साथ किया है.

JEE-NEET पर बवाल, सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा- स्टूडेंट्स का हाल द्रौपदी जैसा, CM बनेंगे कृष्ण?

गौरतलब है कि जेईई की परीक्षाएं 1 से 6 सितंबर के बीच होनी हैं. नीट 13 सितंबर को है. छात्र कोरोना वायरस की महामारी और परेशानियों का हवाला देकर सरकार से परीक्षा टालने की मांग कर रहे हैं. कांग्रेस समेत विपक्षी दल भी परीक्षा कराए जाने को छात्रों के जीवन से खेलना बताते हुए इसके विरोध में उतर आए हैं. कांग्रेस कार्यकर्तोओं ने जेईई और नीट के खिलाफ पूरे देश में प्रदर्शन किया. कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने वीडियो संदेश जारी कर कहा कि छात्र भविष्य में बेहतर भारत के निर्माता हैं. छात्रों के भविष्य का फैसला उनकी सहमति से ही लिया जाना चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें