scorecardresearch
 

तमिलनाडुः छात्रा की मौत के बाद कल्लाकुरिची में भारी हिंसा, कोर्ट ने दूसरी बार पोस्टमार्टम के आदेश दिए

कल्लाकुरिची में छात्रा के सुसाइड के बाद बवाल मचा हुआ है. पुलिस ने सोमवार को दो टीचर्स को गिरफ्तार कर लिया है. इससे पहले प्रिंसिपल और सेक्रेटरी समेत 5 लोग गिरफ्तार किए गए थे. वहीं मद्रास हाईकोर्ट ने छात्रा के शव को दूसरी बार पोस्टमार्टम किए जाने के आदेश दिए हैं.

X
हिंसा के दौरान प्रदर्शनकारियों ने बसों में आग लगा दी थी हिंसा के दौरान प्रदर्शनकारियों ने बसों में आग लगा दी थी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सोमवार को दो टीचर्स पुलिस ने गिरफ्तार किए
  • प्रदर्शनकारियों ने रविवार को बसें जला दी थीं

तमिलनाडु के कल्लाकुरिची में 12वीं कक्षा की छात्रा की मौत के बाद प्रदर्शकारियों ने जमकर बवाल किया. हिंसक विरोध प्रदर्शन के बाद प्रशासन ने कई इलाकों में धारा 144 लागू कर दी. दरअसल, सलेम जिले के कल्लाकुरिची में अपने स्कूल के दो टीचर्स की ओर से परेशान किए जाने के बाद छात्रा ने सुसाइड कर लिया था. इस मामले में वहीं मद्रास हाईकोर्ट ने छात्रा के शव का दूसरी बार पोस्टमार्टम करने का आदेश दिया है.

कोर्ट ने कहा कि इस पूरी प्रक्रिया के दौरान लड़की के पिता वहां पर मौजूद रहेंगे. छात्रा की मौत के बाद जिले में हिंसक विरोध प्रदर्शन हुआ था. वहीं हाईकोर्ट ने पुलिस को आदेश दिया है कि इस बात का पता लगाया जाए कि ये हिंसा किसने भड़काई थी. 

तमिलनाडु के कल्लाकुरिची में 12वीं की छात्र ने शिक्षकों द्वारा प्रताड़ना के बाद आत्महत्या कर ली थी. पहली पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया था कि बॉडी में चोटों के कई निशान थे. छात्रा ने अपने हॉस्टल की छत से कूदकर जान दी थी. ये घटना 13 जुलाई की थी. इस घटना के बाद से ही लोगों में आक्रोश व्याप्त हो गया. 

पुलिस ने इन्हें गिरफ्तार किया

पुलिस ने सोमवार को स्कूल की केमिस्ट्री की टीचर हरिप्रिया और मैथ्य की टीचर कृतिका को गिरफ्तार कर लिया है. इससे पहले स्कूल के प्रिंसिपल और सेक्रेटी समेत मैनेजमेंट के तीन अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया था.

सीएम ने कहा-दोषियों को छोड़ेंगे नहीं 

हालांकि हिंसा के बाद सूबे के सीएम ने अपील की थी कि हिंसा न करें. शांति बनाए रखें. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि किसी भी दोषी को छोड़ा नहीं जाएगा. वहीं प्रदर्शनकारियों ने रविवार को स्कूल की बसों को जला दिया था. स्कूल में तोड़फोड़ की थी.

विपक्ष ने साधा प्रदेश सरकार पर निशाना

भाजपा और अन्नाद्रमुक ने हिंसा के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराया है. आरोप लगाया है कि वह स्थिति का आकलन करने में विफल रही है. वहीं तमिलनाडु स्कूल शिक्षा विभाग ने कल्लाकुरिची के मुख्य शिक्षा अधिकारी को घटना पर विस्तृत रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है.

500 अतिरिक्त पुलिसकर्मी मौके पर भेजे

तमिलनाडु के डीजीपी सी सिलेंद्र बाबू ने कहा कि 500 ​​अतिरिक्त पुलिसकर्मियों को मौके पर भेजा गया है. उन्होंने कहा कि प्रदर्शनकारियों ने शांतिपूर्वक प्रदर्शन का रास्ता चुनने की बजाय हिंसा को चुना. इसके चलते प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज करना पड़ा. मौके पर अतिरिक्त पुलिसकर्मियों को भेजा गया है. किसी भी दोषी को बख्शा नहीं जाएगा. इस पूरी हिंसा के वीडियो हमारे पास उपलब्ध हैं. उन्होंने कहा कि स्कूली छात्रा की मौत प्राकृतिक कारणों से हुई है. FIR दर्ज कर ली गई है. शव का एक बार पोस्टमार्टम किया  जा चुका है, लेकिन छात्रा के माता-पिता ने एक और पोस्टमार्टम के लिए हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. 

ये भी देखें
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें