scorecardresearch
 

हाथरस केस पर बोले कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद- ड्रामा कर रहे हैं प्रियंका और राहुल

केंद्रीय मंत्री ने आज शुक्रवार को पटना में एक पत्रकार सम्मेलन में हाथरस मामले में कहा कि जिस लड़की की मौत हुई वो दुर्भाग्यपूर्ण है, उसका हम कभी समर्थन नहीं करेंगे. योगी आदित्यनाथ की सरकार ने सख्त कार्रवाई की है. एसआईटी की घोषणा कर दी है, जो अपराधी थे वो गिरफ्तार हैं.

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल-पीटीआई) केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद (फाइल-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा: रविशंकर प्रसाद
  • 'हाथरस केस में शिवसेना का क्या, समझ नहीं आया'
  • 'कांग्रेस की कौन सी ये नीति, राजस्थान पर चुप क्यों'

केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने शिवसेना के द्वारा हाथरस मामले में मुंबई में एफआईआर दर्ज करने के मामले को खारिज करते हुए कहा कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता ने पटना में एफआईआर इसलिए दर्ज कराई थी क्योंकि वो पटना के निवासी हैं लेकिन हाथरस मामले का मुंबई से क्या कनेक्शन है. हाथरस पर कांग्रेस के प्रदर्शन पर प्रसाद ने कहा कि प्रियंका और राहुल ड्रामा कर रहे हैं. 

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कानून मंत्री होने के नाते मुझे इसका कोई रेलेवेन्स नजर नहीं आता. केंद्रीय मंत्री ने हाथरस में हुई घटना की निंदा की और कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है. पीड़ित परिवार को न्याय मिलेगा.

उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह मामले में उनके पिताजी ने पूरी स्थिति स्पष्ट कर दी थी, चूंकि वह पटना का बच्चा था, वहां एक्टिंग करता था और वहां कोई कार्रवाई नहीं हो रही थी, तो यहां एफआईआर कराया क्योंकि उनको आशंका थी तो केस सीबीआई में ट्रांसफर हो गया. अब हाथरस मामले में शिवसेना का क्या है, समझ नहीं आ रहा. फिर भी एफआईआर किया है तो उत्तर प्रदेश सरकार इसका जवाब देगी, आपने कानूनी सवाल पूछा, तो मैंने उसका उत्तर दे दिया.

'योगी सरकार ने की सख्त कार्रवाई' 

केंद्रीय मंत्री ने आज शुक्रवार को पटना में एक पत्रकार सम्मेलन में हाथरस मामले में कहा कि जिस लड़की की मौत हुई वो दुर्भाग्यपूर्ण है, उसका हम कभी समर्थन नहीं करेंगे. योगी आदित्यनाथ की सरकार ने सख्त कार्रवाई की है. एसआईटी की घोषणा कर दी है, जो अपराधी थे वो गिरफ्तार हैं. उन्होंने हाथरस केस के बारे में कहा कि फास्ट ट्रैक कोर्ट में मामला चलेगा, उसमें कई बातें हैं. रेप हुआ नहीं हुआ वहां की पुलिस ने बताया है.

पत्रकारों से पीड़ित परिवार से मिलने पर पुलिस के रोक पर उन्होंने कहा कि कोई इमरजेंसी नहीं हैं, जहां तक इमरजेंसी की बात है तो नरेंद्र मोदी की सरकार में कई लोग हैं जिन्होंने इमरजेंसी के खिलाफ संघर्ष किया. जेपी मूवमेंट में हम लोगों ने इमरजेंसी के खिलाफ संघर्ष किया, तो हम लोगों का ये संकल्प है, लेकिन कांग्रेस की कौन सी ये नीति है, राजस्थान पर चुप है. जहां और भी वीभत्स घटना हुई है, उस पर तो कांग्रेस कुछ नहीं बोल रही है. प्रियंका और राहुल गांधी ड्रामा कर रहे हैं, ऐसा कैसे चलेगा, हम लोगों को देखिए हमारी सरकार और वो कानून हमने ही मूव किया था, आज अगर 12 साल के नीचे की बच्ची होगी तो फांसी लगेगी बलात्कार में, अगर बच्ची 20 के ऊपर होगी तो आजीवन जेल में रहेंगे.

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि किसान के हितों को ध्यान रखते हुए हमने कानून बनाया, लेकिन कांग्रेस और आरजेडी को बिचौलियों के हित की पड़ी है, इसलिए उसका विरोध हो रहा है. उन्होंने इस कानून से किसानों को मिलने वाले लाभ को बताया.

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि झूठी अफवाह फैलाई जा रही है कि एमएसपी खत्म किया जाएगा, ऐसा बिल्कुल नहीं है. MSP कभी खत्म नहीं होगी. झूठी अफवाह फैलाने की कोशिश की जा रही है. ये बिल किसानों को बिचौलियों और दलालों से बचाती है जबकि कांग्रेस और आरजेडी बिचौलियों के लिए खड़ी है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें