scorecardresearch
 

Bulli Bai: फेमस मुस्लिम महिलाओं की ऑनलाइन 'बोली', पीड़ितों की क्या है मांग?

करीब 100 मुस्लिम महिलाओं की कथित तौर पर नीलामी की तस्वीरें अपलोड करने वाले Bulli Bai पर बवाल मचा हुआ है. महिलाओं ने आरोपियों के खिलाफ आवाज को बुलंद किया है और उनके गिरफ्तारी की मांग की है.

X
सांकेतिक तस्वीर सांकेतिक तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Bulli Bai पर विवाद जारी
  • सरकार ने दिए जांच के आदेश
  • दिल्ली और मुंबई में मुकदमा दर्ज

करीब 100 मुस्लिम महिलाओं की कथित तौर पर नीलामी की तस्वीरें अपलोड करने वाले Bulli Bai पर बवाल मचा हुआ है. होस्टिंग प्लेटफॉर्म Github पर लॉन्च किया गया था. करीब 6 महीने पहले भी Sulli Deals नाम से एक ऐप आया था, जिसमें Bulli Bai की ही तरह महिलाओं की नीलामी की जा रही थी.

सोशल मीडिया पर सक्रिय हुईं कुछ प्रभावशाली महिलाओं, खास तौर पर मुस्लिम समुदाय से सक्रिय होने के बाद 1 जनवरी को 'Bulli Bai' के आसपास का विवाद सामने आया. महिलाओं ने शिकायत की कि उनकी छेड़छाड़ की गई तस्वीरें Github होस्टिंग प्लेटफॉर्म पर ऑनलाइन बिक्री के लिए अपलोड की गई थीं.

किन महिलाओं ने की शिकायत

पत्रकारों, सामाजिक कार्यकर्ताओं, छात्रों और प्रसिद्ध हस्तियों सहित कई महिलाओं ने Bulli Bai के खिलाफ शिकायत की और इसके डेवलपर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की. मुंबई और दिल्ली पुलिस की साइबर सेल द्वारा की गई जांच में पाया गया कि सैकड़ों मुस्लिम महिलाओं को ऐप पर 'नीलामी' के लिए डाला गया था.

Bulli Bai का शिकार हुईं महिलाओं ने क्या है?

Bulli Bai पर एक महिला पत्रकार की भी तस्वीर लगाई गई थी. उस महिला पत्रकार ने ट्विटर पर लिखा, 'पिछले साल मैंने लिखा था कि कैसे मुस्लिम महिलाओं को नीलामी की तस्वीरें अपलोड की गई थी, आज एक साल बाद एक और चलन में #bullideals में अन्य मुस्लिम महिलाओं की अपनी तस्वीर देखकर मुझे बेहद घृणित महसूस होता है.'

महिला पत्रकार ने ट्विटर पर आगे लिखा था, 'मुझे बुरा लगता है कमजोर नहीं, मैं कोई ऐसी महिला नहीं हूं जो इस तरह के सस्ते हथकंडों से चुप हो जाऊं और मैं इस तरह के मुद्दों को बार-बार उठाती रहूंगी, उन सभी महिलाओं के साथ पूरी एकजुटता है जिन्हें फिर से निशाना बनाया गया है, आप मजबूत हैं!'

ये भी पढ़ें- 'Bulli Bai' क्या है... आखिर क्यों गुस्से में हैं मुस्लिम महिलाएं?

एक और भारतीय महिला पत्रकार की तस्वीर Bulli Bai पर 'नीलामी' के लिए लगाई थी. उस महिला पत्रकार पर अपनी पीड़ा जाहिर करते हुए कहा, 'यह बहुत दुख की बात है कि एक मुस्लिम महिला के रूप में आपको अपने नए साल की शुरुआत इस डर और घृणा के साथ करनी पड़ रही है.' महिला पत्रकार ने दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है. 

दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कराने के बाद महिला पत्रकार ने कहा, 'जिन महिलाओं को निशाना बनाया गया है वे मुखर महिलाएं हैं जो सोशल मीडिया पर मुसलमानों के मुद्दों को उठाती हैं, इन मुस्लिम महिलाओं की आवाज को बंद करने की स्पष्ट साजिश है क्योंकि हम दक्षिणपंथी संगठनों को को उनके घृणा अपराधों के खिलाफ ऑनलाइन चुनौती देती हैं.'

एक और महिला पत्रकार ने कहा, 'आपत्तिजनक #BulliDeals में #SulliDeals के समान मेरे सहित कई मुस्लिम महिलाओं के नाम हैं. यह भारत की टूटी-फूटी न्याय व्यवस्था, एक जर्जर कानून-व्यवस्था व्यवस्था का प्रतिबिंब है. क्या हम महिलाओं के लिए सबसे असुरक्षित देश बनते जा रहे हैं?'

अब तक क्या कार्रवाई हुई?

Bulli Bai के सामने आने के बाद केंद्रीय मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रविवार को बताया था कि इस मामले की जांच चल रही है और Github से अकाउंट बंद करवा दिया गया है. इस मामले में दिल्ली और मुंबई में प्राथमिकी दर्ज की गई है जबकि हैदराबाद पुलिस और राष्ट्रीय महिला आयोग ने मामले का संज्ञान लिया है. अभी कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

Sulli Deals और Bulli Bai क्या है?

जुलाई 2021 में 'Sulli Deals' नाम का एक ऐप सामने आया था, जिसमें कई मुस्लिम महिलाओं की तस्वीरें लगाकर उनकी कथित नीलामी की जा रही थी. उस दौरान कई महिलाओं ने आवाज उठाई थी. करीब 6 महीने बाद 'Bulli Bai' नाम का फिर से ऐप सामने आया है, जिसमें और अधिक महिलाओं की 'नीलामी' की जा रही थी.

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि Sulli Deals और Bulli Bai को एक ही डेवलपर ने Github पर बनाया था. सोशल मीडिया में Bulli Bai की बात जैसे सामने आई तो सरकार हरकत में आई और तुरंत Bulli Bai ऐप पर बैन लगाया गया और मामले की जांच की जा रही है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें