scorecardresearch
 

ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी सुलझी, पति की हत्या के आरोप में पत्नी-प्रेमी गिरफ्तार

बाहरी दिल्ली के राजपार्क थाना इलाके में धनतेरस की रात हुए ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है. प्रेम प्रसंग में आरोपी ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया. पुलिस ने इस मामले में मृतक की पत्नी को प्रेमी के साथ गिरफ्तार कर लिया है.

X
पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने ब्लाइंड मर्डर के आरोपी को गिरफ्तार कर लिया.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • धनतेरस की रात हुए ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई
  • प्रेम प्रसंग के चलते आरोपी ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया
  • साल 2015 में आरोपी की मुलाकात मृतक की पत्नी से हुई थी

बाहरी दिल्ली के राजपार्क थाना इलाके में धनतेरस की रात हुए ब्लाइंड मर्डर की गुत्थी पुलिस ने सुलझा ली है. प्रेम प्रसंग में आरोपी ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया. पुलिस ने इस मामले में मृतक की पत्नी को प्रेमी के साथ गिरफ्तार कर लिया है. 

दिल्ली के राजपार्क थाना इलाके के मंगोलपुरी में धनतेरस की रात एक ऑटो चालक की हत्या हुई थी. शुरुआत से ही आपसी रंजिश के तहत हत्या की आशंका जताई जा रही थी. हालांकि पुलिस ने अलग-अलग एंगल से ब्लांइड मर्डर की गुत्थी को सुलझाने के लिए टीमें बनाईं. परत-दर-परत जांच करते हुए पुलिस आरोपियों तक पहुंच गई. पुलिस ने आरोपी साजिम को यूपी के मुरादाबाद से दबोचा.

बाहरी जिले के डीसीपी परविंदर सिंह ने बताया कि टीम को जांच के दौरान पता चला कि राजकुमार करोल बाग से सवारी लेकर आया था, इसके बाद टीम ने करोल बाग से मंगोल पुरी तक के बीच सैकड़ों कैमरों की फुटेज को खंगाला. पुलिस टीम को जांच के दौरान एक इनपुट मिला, जिससे पता चला कि इस हत्या में साजिम नाम के व्यक्ति की संलिप्तता हो सकती है.

लोकल इनपुट और टेक्निकल सर्विलांस के बाद पुलिस ने साजिम खान को यूपी के मुरादाबाद से गिरफ्तार किया. पुलिस उपायुक्त परविंदर सिंह ने बताया कि साजिम से जब सख्ती से पूछताछ की गई तो उसने अपराध कबूल कर लिया. जांच में पता चला कि साजिम खान के पिछले कई वर्षों से मृतक की पत्नी के साथ संबंध थे. 

आरोपी साजिम खान ने पूछताछ में बताया कि साल 2015 में उसकी मुलाकात मृतक की पत्नी से हुई. पिछले कुछ महीनों से महिला लगातार उससे शिकायत कर रही थी कि पति उसके साथ मारपीट करता है. इसलिए उसने राजकुमार को मारने की योजना बनाई. वह मृतक की पत्नी से शादी करना चाहता था.

पुलिस ने बताया कि कई हफ्तों तक आरोपी ने राजकुमार की गतिविधियों पर नजर रखी. इसके बाद धनतेरस की रात साजिम ने करोलबाग से राजकुमार के ऑटो में सवार होकर ऑटो को मंगोलपुरी की ओर ले जाने के लिए कहा और एक सुनसान जगह पर मौका देखकर गोली मार दी.
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें