scorecardresearch
 

सुप्रीम कोर्ट तक पहुंची बंगाल हिंसा की आंच, सीबीआई जांच कराने की मांग

पश्चिम बंगाल में चुनावी संग्राम खत्म हो गया है, लेकिन उसके बाद से ही राजनीतिक हिंसा का दौर जारी है. भाजपा नेता गौरव भाटिया ने अब सुप्रीम कोर्ट का रुख किया है और हिंसा की सीबीआई जांच कराने की मांग की है.

सुप्रीम कोर्ट में दायर की है याचिका (फाइल फोटो) सुप्रीम कोर्ट में दायर की है याचिका (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चुनाव के नतीजों के बाद बंगाल में हिंसा जारी
  • सुप्रीम कोर्ट में याचिका, CBI जांच की मांग

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के नतीजे आने के बाद से ही हिंसा का दौर जारी है. अब हिंसा का ये मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है. भारतीय जनता पार्टी के नेता और वकील गौरव भाटिया ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की है, साथ ही हिंसा की सीबीआई जांच कराने की मांग की है. 

गौरव भाटिया ने अपनी याचिका में कहा है कि चुनाव के नतीजों के बाद से ही हिंसा हो रही है, महिलाओं के साथ बलात्कार किया गया है. कई बीजेपी कार्यकर्ताओं पर हमला हुआ है, कुछ को मारा भी गया है. ऐसे में इस पूरी घटना की सीबीआई जांच होनी चाहिए.


पश्चिम बंगाल में दो मई को चुनाव नतीजे आए हैं, जिसमें तृणमूल कांग्रेस की जीत हुई है. बंगाल में इसी के बाद से ही हिंसा का दौर जारी है. कई जिलों में आगजनी, लूटपाट, तोड़फोड़ और हत्या की जानकारी सामने आई है. 

बीजेपी का आरोप है कि चुनाव नतीजों के बाद उसके कुछ कार्यकर्ताओं की हत्या हुई है, कोलकाता, आसनसोल, बीरभूम समेत कुछ अन्य इलाकों में बीजेपी कार्यकर्ताओं के घर, दुकान जला दिए गए हैं और उन्हें मारा-पीटा गया है. जबकि टीएमसी ने भी बीजेपी पर आरोप लगाया है कि उनके कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की गई है. 

पीएम मोदी ने भी जताई है चिंता, बंगाल में जेपी नड्डा
बंगाल में जारी हिंसा के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी चिंता व्यक्त की है. पीएम मोदी ने मंगलवार दोपहर को बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ से फोन पर बात की, हालात पर चिंता व्यक्त की. दूसरी ओर बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा बंगाल पहुंचे हैं, जहां पर वो बीजेपी कार्यकर्ताओं के परिवार से मुलाकात करेंगे.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें