scorecardresearch
 

बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद कई जिलों में हिंसा, कोलकाता पहुंचे जेपी नड्डा

पश्चिम बंगाल में चुनाव के नतीजे घोषित होने के बाद से ही बवाल जारी है. राज्य के अलग-अलग इलाके में हिंसा, आगजनी, तोड़फोड़ हो रही है, कई जगह कार्यकर्ताओं की मौत भी हुई है. तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी इस बीच एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. 

बंगाल में बीजेपी के कई दफ्तरों को बनाया गया निशाना (फोटो: PTI) बंगाल में बीजेपी के कई दफ्तरों को बनाया गया निशाना (फोटो: PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • चुनाव नतीजों के बाद बंगाल में बवाल जारी
  • कई जिलों से आगजनी, तोड़फोड़ की खबरें

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव भले ही खत्म हो गए हैं, लेकिन राजनीतिक बवाल खत्म नहीं हुआ है. बंगाल में चुनाव नतीजे घोषित होने के बाद से ही राजनीतिक हिंसा का दौर जारी है. राज्य के अलग-अलग इलाके में हिंसा, आगजनी, तोड़फोड़ हो रही है, कई जगह कार्यकर्ताओं की मौत भी हुई है. तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी इस बीच एक दूसरे पर आरोप लगा रहे हैं. 

सवाल उठता है कि बंगाल का रक्तचरित्र क्या कभी नहीं बदलेगा, क्या बंगाल अपने सियासी खूनी इतिहास में जीता रहेगा, राज्य में ममता की सरकार बनने के बाद भी खूनी हिंसा का दौर जारी है. इस बवाल के बीच मंगलवार दोपहर को बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा भी बंगाल पहुंचे और हिंसा में मारे गए बीजेपी कार्यकर्ताओं के परिवारों से मुलाकात की.


चुनाव नतीजों के बाद से ही हिंसा का दौर
दरअसल, रविवार को बंगाल में ममता बनर्जी की विजय हुई, बीजेपी की पराजय और इसके कुछ घंटों बाद हिंसा का खेला शुरू हुआ और वो अबतक जारी है. बंगाल के अलग-अलग इलाकों में अबतक हिंसा हो चुकी है. 

बंगाल में शहर-शहर हुआ बवाल
पहले बीजेपी दफ्तर को आग के हवाले किया गया, फिर शुवेंदु अधिकारी पथराव की रेंज में आ गए. इसके बाद तो जैसे हिंसा की खबरें बंगाल को डराने लगीं. हल्दिया से लेकर आसनसोल, कोलकाता से लेकर सिलिगुड़ी तक में तनातनी का दौर तेज होने लगे. 

यहां पर बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं में भिड़ंत की खबरें कोलकाता से होते हुए दिल्ली तक धमकने लगीं. हिंसा के इस दौर में कहीं दफ्तर खाक हो गए तो कहीं दोनों दलों ने एक दूसरे पर ताकत दिखाई. हुगली के खानाकुल इलाके में एक और हिंसक वारदात में एक कार्यकर्ता की जान चली गई, आरोप है कि पीट-पीटकर एक टीएमसी समर्थक देबू प्रमाणित की जान ले ली गई.

बीजेपी नेता ने लगाया गंभीर आरोप
कानून व्यवस्था का ये हाल देखकर पहले तो गृह मंत्रालय ने रिपोर्ट तलब की और फिर राज्यपाल महोदय ने. पश्चिम बंगाल की नानूर विधानसभा सीट से बीजेपी के प्रत्याशी तारक साहा का कहना है कि इस इलाके में घरों को निशाना बनाया गया है, करीब 4-5 हजार घरों नुकसान पहुंचाया गया है. बीजेपी के नेता ने आरोप लगाया कि कई महिलाओं का रेप किया गया है, जबकि लूटपाट भी हुई है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें