scorecardresearch
 

नगरोटा ऑपरेशन के बाद बोले सेना प्रमुख- LoC पार करने वाले आतंकवादी जिंदा नहीं बचेंगे

सेना प्रमुख जनरल नरवणे ने चावल की बोरियों से लदे ट्रक में छिपे आतंकवादियों के खिलाफ ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए सुरक्षा बलों की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि सेना, जम्मू और कश्मीर पुलिस तथा अर्धसैनिक बलों के बीच बेहतर तालमेल रहा. उन्होंने कहा कि जो भी हमारी ओर घुसपैठ करने की कोशिश करेगा, उसे इसी तरह से निपटाया जाएगा और वे पीछे नहीं लौट सकेंगे.

भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (फाइल-पीटीआई) भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (फाइल-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एनकाउंटर के दौरान चार आतंकवादी मारे गए
  • 11 एके -47 राइफल समेत कई हथियार बरामद
  • टोल प्लाजा के पास चेकिंग के दौरान एनकाउंटर
  • घुसपैठ करने वाले जिंदा नहीं जा सकेंगेः नरवणे

जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में आज गुरुवार सुबह सुरक्षा बलों ने जैश-ए-मोहम्मद के 4 आतंकियों के सफाए के बाद भारतीय सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे ने कहा कि लाइन ऑफ कंट्रोल (LoC) पार करने की कोशिश करने वाले आतंकवादी जिंदा नहीं बचेंगे. उन्होंने कहा कि यह संदेश पाकिस्तान और उसके आतंकवादियों के लिए बेहद साफ है कि जो भी भारत में घुसपैठ करने के लिए नियंत्रण रेखा को पार करेगा, इसी तरह से निपटा दिया जाएगा और वे वापस नहीं जा सकेंगे.

सेना प्रमुख जनरल नरवणे ने चावल की बोरियों से लदे ट्रक में छिपे आतंकवादियों के खिलाफ ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए सुरक्षा बलों की जमकर प्रशंसा करते हुए कहा कि सेना, जम्मू और कश्मीर पुलिस तथा अर्धसैनिक बलों के बीच बेहतर तालमेल रहा. 

जैश से संबंध!

नगरोटा में सफल ऑपरेशन के बाद सेना प्रमुख जनरल नरवाणे ने आजतक और इंडिया टुडे को बताया, 'सुरक्षा बलों की ओर से यह एक बेहद सफल ऑपरेशन रहा. यह जमीनी स्तर पर सभी सुरक्षा बलों के बीच उच्च स्तर के तालमेल को दर्शाता है. उन्होंने कहा कि दुश्मनों और आतंकवादियों के लिए स्पष्ट संदेश है कि जो भी हमारी ओर घुसपैठ करने की कोशिश करेगा, उसे इसी तरह से निपटाया जाएगा और वे पीछे नहीं लौट सकेंगे.

सेना प्रमख नरवणे से नगरोटा में सुरक्षा बलों की ओर से चलाए गए सफल ऑपरेशन पर टिप्पणी करने के लिए कहा गया था जिसमें चार आतंकवादी मारे गए थे. माना जा रहा है कि इन चारों आतंकवादियों का संबंध जैश-ए-मोहम्मद से है.

आतंकवादियों के एक संदिग्ध ट्रक में होने की सूचना मिलने के बाद जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (SSG) के साथ केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) और सेना अलर्ट पर थे. इसके बाद, आज सुबह 4.20 बजे सैनिकों और आतंकवादियों के बीच उस समय एनकाउंटर हुआ, जब टोल प्लाजा के पास ट्रक को रोकने का प्रयास किया गया.

घाटी की ओर जा रहे थे आतंकी

एनकाउंटर के दौरान चार आतंकवादी मारे गए. उनके पास से 11 एके-47 राइफल, 3 पिस्तौल, 29 ग्रेनेड और अन्य खतरनाक उपकरण बरामद किए गए. माना जा रहा है कि उन्होंने कुछ बड़ा करने के इरादे से घुसपैठ की थी और कश्मीर घाटी की ओर जा रहे थे.

बताया जा रहा है कि आतंकवादी अंधेरे का फायदा उठाकर निकलने की फिराक में थे. तड़के सुबह गाड़ियों की चेकिंग के दौरान आतंकवादियों के एक ग्रुप ने सुरक्षाबलों पर अचानक फायरिंग शुरू कर दी. इसके बाद एनकाउंटर शुरू हो गया. ये आतंकी ट्रक में बैठे हुए थे और वहीं से ही सुरक्षाबलों पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाने लगे. सुरक्षाबलों की ओर से भी जवाबी कार्रवाई की गई. जवाबी कार्रवाई से आतंकवादी पास में जंगल की ओर भागने लगे.

देखें: आजतक LIVE TV

सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की एक और साजिश नाकाम कर दिया. नगरोटा में गुरुवार सुबह सुरक्षा बलों ने जैश-ए-मोहम्मद के 4 संदिग्ध आतंकियों को मार गिराया. पाकिस्तान से आए ये चारों आंतकी ट्रक में छिपकर श्रीनगर जाने की फिराक में थे. खुफिया सूचना मिलने पर सुरक्षा बलों ने आतंकियो को घेर लिया और एनकाउंटर में उन्हें मार गिराया.

सू्त्रों का कहना है कि राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) भी मुठभेड़ स्थल का दौरा करेगी. हालांकि मामले में जांच NIA को सौंपने को लेकर फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया गया है.  
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें