scorecardresearch
 

अमित शाह ने सीएम सोनोवाल से की बात, असम-मिजोरम के बीच ताजा हालात का लिया जायजा

सोनोवाल ने केन्द्रीय मंत्री को प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के साथ ही दोनों राज्यों के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच हुई चर्चा के बारे में जानकारी दी.

अमित शाह ने असम के मुख्यमंत्री से फोन पर की बात (फोटो- ट्विटर) अमित शाह ने असम के मुख्यमंत्री से फोन पर की बात (फोटो- ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अमित शाह ने असम सीएम से फोन पर की बात
  • दोनों राज्यों के सीमा पर ताजा हालात की ली जानकारी
  • गृह मंत्रालय ने दोनों राज्यों के बीच शांति बहाल के लिए उठाए कदम

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने बुधवार को असम और मिजोरम के बीच सीमा विवाद को लेकर मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल से फोन पर बात की. इस दौरान उन्होंने 17 सितंबर को अंतरराज्यीय सीमा पर हुई झड़प के बाद के हालात का जायजा लिया और सीएम से दोनों राज्यों के सीमा पर ताजा हालात की जानकारी ली. शाह ने सीएम से पूछा कि उन्होंने बॉर्डर पर शांति बहाल करने के लिए क्या कदम उठाए हैं? 

इसके साथ ही गृह मंत्री ने असम सीएम को बताया कि मंत्रालय की तरफ से दोनों राज्यों के बीच शांति बहाल के लिए कई कदम उठाए गए हैं. सोनोवाल ने केन्द्रीय मंत्री को प्रदेश सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के साथ ही दोनों राज्यों के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच हुई चर्चा के बारे में जानकारी दी.

मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने बताया कि सीमा विवाद को सुलझाने के लिए वरिष्ठ सरकारी अफसरों ने इस दिशा में चर्चा शुरू कर दी है. उन्होंने अमित शाह को फोन पर बताया कि मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरामथांगा ने भी टेलीफोन पर बातचीत के दौरान दोनों राज्यों के लोगों के बीच शांति बहाल करने और भाईचारा को मजबूती देने के लिए सभी जरूरी कदम उठाने की बात कही है.  

असम के मुख्यमंत्री कार्यालय के एक प्रवक्ता ने शाह और मुख्यमंत्री के बीच हुई बातचीत को लेकर कहा कि गृह मंत्री ने तनाव कम करने के लिए असम सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के बारे में जानकारी ली और कहा कि केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने अंतरराज्यीय सीमा पर शांति बनाए रखने के लिए कदम उठाए हैं. सोनोवाल ने केन्द्रीय मंत्री को उनकी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के साथ ही दोनों राज्यों के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच हुई चर्चा के बारे में जानकारी दी.

देखें: आजतक LIVE TV

इससे पहले केन्द्रीय गृह मंत्रालय में संयुक्त सचिव (पूर्वोत्तर मामले के प्रभारी) सत्येन्द्र गर्ग के हस्तक्षेप के बाद पड़ोसी राज्यों असम और मिजोरम ने अंतरराज्यीय सीमा पर जिन क्षेत्रों में अशांति फैली है वहां शांति और सामान्य हालात बहाल करने के लिए बुधवार को बैठक की. 

एक आधिकारिक प्रवक्ता ने बताया कि बैठक में मिजोरम ने असम की सीमा से अपने बलों को हटाने पर सहमति जतायी है, वहीं असम ने आवश्यक वस्तुओं को लेकर जाने वाले ट्रकों की आवाजाही फिर से शुरू करने का प्रयास करने का आश्वासन दिया है. फिलहाल सभी ट्रक असम की सीमा पर फंसे हुए हैं.

आधिकारिक प्रवक्ता ने कहा कि दोनों राज्यों के बीच सीमावर्ती क्षेत्रों में शांति और स्थिरता बनाए रखने, वहां लोगों को सुरक्षा प्रदान करने और उनके मन में सुरक्षा की भावना उत्पन्न करने को लेकर सहमति बनी है. 

गर्ग ने कहा कि केन्द्र, असम और मिजोरम की सरकारों के बीच उपयोगी बातचीत हुई और सभी ने बातचीत के जरिए समस्या का सौहार्द्रपूर्ण हल निकालने पर सहमति जतायी. प्रवक्ता ने बताया कि मिजोरम के गृह सचिव पी लालबियाकसांगी ने गर्ग और असम के गृह सचिव जीडी त्रिपाठी के साथ बैठक के बाद बलों को हटाने की घोषणा की. त्रिपाठी ने कहा कि दोनों पक्षों के बीच यह बातचीत विवादित क्षेत्र में शांति और स्थिरता बहाल करने के लिए थी. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें