scorecardresearch
 

बीजेपी के साथ गठबंधन में बर्बाद किए 25 साल: CM उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना ने बीजेपी को छोड़ा है, हिंदुत्व को नहीं. मेरा मानना है कि बीजेपी का अवसरवादी हिंदुत्व सत्ता के लिए है

X
उद्धव ठाकरे (File Pic) उद्धव ठाकरे (File Pic)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 2019 में बीजेपी से अलग हुई थी शिवसेना
  • बीजेपी का हिंदुत्व सत्ता के लिए हैः उद्धव

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने गठबंधन को लेकर बीजेपी पर निशाना साधा है. उद्धव ठाकरे ने कहा कि उनका मानना है कि शिवसेना ने बीजेपी के साथ गठबंधन में 25 साल बर्बाद किए. पार्टी के संस्थापक और अपने पिता बाल ठाकरे की 96वीं जयंती पर शिवसैनिकों को संबोधित करते हुए उद्धव ने कहा कि बीजेपी का हिंदुत्व सत्ता के लिए है.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना ने बीजेपी को छोड़ा है, हिंदुत्व को नहीं. मेरा मानना है कि बीजेपी का अवसरवादी हिंदुत्व सत्ता के लिए है. दरअसल, 2019 के महाराष्ट्र चुनावों के बाद शिवसेना बीजेपी से अलग हो गई और महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार बनाने के लिए एनसीपी और कांग्रेस के साथ गठबंधन किया.

अमित शाह पर भी किया वार
उद्धव ठाकरे ने कहा, अमित शाह ने पुणे आकर चुनौती दी थी कि हिम्मत है तो अकेले लड़ो. हम अकेले लड़ने के लिए तैयार हैं लेकिन मेरी शर्त है कि आप सरकार के रूप में अपनी शक्ति का प्रयोग न करें. हम भी अपनी शक्ति का प्रयोग नहीं करेंगे. चलो दो राजनीतिक दलों के रूप में लड़ते हैं. तब हम देखेंगे कि कौन अधिक शक्तिशाली है. ईडी, इनकम टैक्स का इस्तेमाल करना और फिर लड़ाई-झगड़ा करना ठीक नहीं है.

यूज एंड थ्रो पॉलिसी है बीजेपी का सिद्धांत
ठाकरे ने कहा, 'बीजेपी का सिद्धांत यूज एंड थ्रो पॉलिसी है.याद कीजिए वो दिन जब चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी अपनी जमानत खो देते थे. उस समय उन्हें हमारी जरूरत थी उन्होंने हमारे साथ, अकाली दल और ममता के के साथ गठबंध किया और केंद्र में अटल बिहारी वाजपेयी ने सरकार बनाई. हमने उनका तहे दिल से समर्थन किया. लेकिन अब ये नव-हिंदुत्ववादी हिंदुत्व का इस्तेमाल सिर्फ अपने फायदे के लिए कर रहे हैं.'

बाला साहब की जयंती के मौके पर आयोजित वर्चुअल आयोजन के दौरान ठाकरे के साथ शिवसेना नेता संजय राउत ने भी बीजेपी पर निशाना साधा. संजय राउत ने कहा कि अगर उद्धव ठाकरे राज्य सरकार के मुख्यमंत्री नहीं होते तो केंद्र सरकार राज्य सरकार को पंगु बना देती. उन्होंने शिवसैनिकों से कहा कि हमें अपने पार्टी प्रमुख, राज्य के मुख्यमंत्री और शिवसेना के साथ मजबूती के साथ खड़े रहना है. यह लड़ाई आसान नहीं है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें