scorecardresearch
 

मुंबई: छोटी बच्ची ने लिया मुख्यमंत्री फड़नवीस का इंटरव्यू

इसे आम आदमी की सत्ता तक पहुंच कहिए या महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस का बालमन. मुंबई के एक स्कूल में पढ़ने वाली छोटी सी बच्ची दृष्टि ने हाल ही सीएम आवास पर फडनवीस का इंटरव्यू किया. सीएम ने भी अपने घर आए इस नन्हें बिन बुलाए मेहमान का दिल खोलकर स्वागत किया.

इसे आम आदमी की सत्ता तक पहुंच कहिए या महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस का बालमन. मुंबई के एक स्कूल में पढ़ने वाली छोटी सी बच्ची दृष्टि ने हाल ही सीएम आवास पर फडनवीस का इंटरव्यू किया. जी हां, मुख्यमंत्री बनने के बाद जहां फडनवीस के इंटरव्यू के लिए पत्रकारों की लाइन लगी है, वहीं सीएम ने अपने घर आए इस नन्हें बिन बुलाए मेहमान का दिल खोलकर स्वागत किया.

जानकारी के मुताबिक, स्कूली बच्ची दृष्टि हरचंद्राई सीएम का इंटरव्यू लेने उनके सरकारी आवास पहुंची. अपॉइंटमेंट नहीं होने के कारण उसे सुरक्षा बलों ने गेट पर ही रोक दिया. सुरक्षा बलों के समझाने पर दृष्टि ने सीएम के नाम एक पत्र लिखा और उसमें इंटरव्यू के लिए समय देने की बात कही.

दृष्टि ने चिट्ठी में लिखा, 'सुरक्षा बल मुझे अंदर जाने नहीं दे रहे हैं. आपको जब यह चिट्ठी मिले तो मुझे मेरे नंबर पर फोन करें या किसी को भेजकर मुझे अंदर आने दें. मैं आपका इंटरव्यू लेना चाहती हूं.'

मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस ने इस बारे में अपने फेसबुक पेज पर लिखा, 'मुझे खुशी हुई और मैं बच्ची की चिट्ठी देखकर चकित हो गया. मैंने उसे अपने कार्यालय बुलाया.' बच्ची के साथ इंटरव्यू के बारे में फडनवीस ने लिखा, 'उसने मुझसे किसी पेशेवर पत्रकार की तरह सवाल पूछे. उसने पूछा कि मैं शि‍क्षा के क्षेत्र के लिए क्या कुछ करूंगा. महंगाई को लेकर हमारी सरकार क्या करेगी. मुझे इस इंटरव्यू में काफी मजा आया. हमारी सरकार दृष्टि और दूसरे बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए जरूर प्रयास करेगी.'

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें