scorecardresearch
 

सुशांत सिंह राजपूत केस में मुंबई पुलिस ने दिल्ली से एक वकील को किया गिरफ्तार, फेक न्यूज फैलाने का आरोप

पुलिस के मुताबिक विभोर आनंद ने कई सारे स्टेटमेंट्स और मीडिया लिंक पोस्ट कर, दिशा सालियान और उसकी मौत को लेकर गलत सूचनाएं फैलायी हैं.

विभोर आनंद को मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार (फाइल फोटो) विभोर आनंद को मुंबई पुलिस ने किया गिरफ्तार (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फेक खबर फैलाने के आरोप में वकील गिरफ्तार
  • सोशल साइट्स पर गलत सूचना फैलाने का आरोप
  • कोर्ट के आदेश की भी अनदेखी करने का आरोप

मुबंई पुलिस ने सुशांत सिंह राजपूत केस में झूठी खबरें फैलाने के आरोप में वकील विभोर आनंद को दिल्ली से गिरफ्तार किया है. विभोर आनंद पर सोशल मीडिया के जरिए गलत सूचना फैलाने, मृत व्यक्ति की छवि खराब करने, लोगों के बीच में असंतोष और संदेह फैलाने की कोशिश करने के आरोप हैं.

पुलिस के मुताबिक विभोर आनंद ने कई सारे स्टेटमेंट्स और मीडिया लिंक पोस्ट कर, दिशा सालियान और उसकी मौत को लेकर गलत सूचनाएं फैलायी हैं. 12 अगस्त को विभोर आनंद के खिलाफ साइबर पुलिस स्टेशन में एक शिकायत लिखाई गई थी, जिसमें उन पर एक महिला के खिलाफ अश्लील बातें करने का आरोप लगाया गया था.  

शिकायत में 14 ऐसे ट्विटर अकाउंट का जिक्र किया गया है, जिसमें से एक ट्विटर अकाउंट विभोर आनंद का है. आरोप है कि विभोर अपने ट्विटर अकाउंट्स पर दिशा सालियान की मौत को लेकर गलत कहानियां बताते रहते हैं. एफआईआर में कहा गया है कि आनंद ने अपने ट्विटर हैंडल, यूट्यूब पोस्ट और सोशल मीडिया के जरिए मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस और पर्यटन मंत्री आदित्य ठाकरे को बदनाम करने की कोशिश की है. 

बता दें, दिशा सालियान सुशांत सिंह के मैनेजर के तौर पर काम कर रही थीं. दिशा सालियान की 8 जून को मुंबई के एक रेजिडेंशियल बिल्डिंग के 14वें फ्लोर से नीचे गिरकर मौत हो गई थी. आनंद ने ट्विटर पर दावा किया था कि सालियान की हत्या की गई थी.

देखें: आजतक LIVE TV

सूत्रों के मुताबिक विभोर ने यूट्यूब पर एक लाइव सेशन के दौरान फिल्म अभिनेता अरबाज खान, शौविक चक्रवर्ती, आदित्य ठाकरे का नाम लेते हुए कहा था कि एकता कपूर ने एक पार्टी का आयोजन किया था, जिसमें दिशा सालियान को भी बुलाया गया था. यह पार्टी दिशा की मौत से कुछ दिनों पहले ही हुई थी. विभोर आनंद ने इन सभी लोगों पर कई संगीन आरोप लगाए हैं. 

फिल्म अभिनेता अरबाज खान ने पिछले महीने मुंबई की एक अदालत में शिकायत दर्ज कराई थी, जिसमें कहा गया था कि दिशा सालियान की मौत के मामले में गलत तरीके से उनका नाम घसीटा जा रहा है. जिसके बाद कोर्ट ने किसी भी तरीके से अरबाज खान के नाम को घसीटे जाने पर रोक लगाई थी. लेकिन कोर्ट के आदेश के बावजूद विभोर आनंद ने अपने यूट्यूब पोस्ट में अरबाज खान का नाम लिया है. 

मुंबई पुलिस ने साइबर पुलिस थाने में दर्ज शिकायत के आधार पर विभोर आनंद को दिल्ली से गिरफ्तार किया और मुंबई लेकर आई.    

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें