scorecardresearch
 

महाराष्ट्र के गृह मंत्री ने किया दावा- विवेक ओबेरॉय और संदीप सिंह के बीच है ड्रग कनेक्शन

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को दावा किया कि बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबरॉय और फिल्म निर्माता संदीप सिंह के बीच कोई ड्रग कनेक्शन है. इसके साथ ही अनिल देशमुख ने कहा कि अगर एनसीबी विवेक ओबेरॉय और संदीप सिंह के ड्रग कनेक्शन की जांच नहीं करती है तो मैं मुंबई पुलिस को इस केस की जांच करने को कहूंगा.

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने विवेक ओबेरॉय पर साधा निशाना (फाइल फोटो) महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने विवेक ओबेरॉय पर साधा निशाना (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अनिल देशमुख ने विवेक ओबेरॉय पर लगाए आरोप
  • देशमुख ने कहा विवेक के ड्रग कनेक्शन की हो जांच
  • बोले- NCB नहीं करेगी तो मुंबई पुलिस को कहूंगा

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को दावा किया कि बॉलीवुड एक्टर विवेक ओबरॉय और फिल्म निर्माता संदीप सिंह के बीच कोई ड्रग कनेक्शन है. उन्होंने कहा कि विवेक ओबरॉय बीजेपी के स्टार प्रचारक हैं जबकि संदीप सिंह ने पीएम नरेंद्र मोदी की बॉयोपिक 27 भाषाओं में बनाई थी. इसके साथ ही अनिल देशमुख ने दावा किया कि अगर एनसीबी विवेक ओबेरॉय और फिल्म निर्माता संदीप सिंह के ड्रग कनेक्शन की जांच नहीं करती है तो मैं मुंबई पुलिस को इस केस की जांच करने को कहूंगा.

महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और राज्य के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने इस बाबत एनसीबी को एक पत्र भी लिखा है. अपने पत्र में अनिल देशमुख ने इस मामले की जांच कराने की गुजारिश की है. हालांकि इस पूरे ड्रग कनेक्शन में, एनसीबी इस एंगल की जांच नहीं कर रहा है.

अनिल देशमुख ने आगे कहा कि हमने एनसीबी को लिखा था लेकिन अब तक कुछ नहीं किया गया. जबकि बेंगलुरु की पुलिस मुंबई आई और अपनी जांच शुरू की. मैं एक बार फिर से एनसीबी को इस मामले की जांच करने के लिए कहता हूं. अगर एनसीबी अब भी इस एंगल पर जांच नहीं करती है तो मुंबई पुलिस फिल्म निर्माता संदीप सिंह और विवेक ओबेरॉय के ड्रग कनेक्शन की जांच करेगी. उन्होंने कहा कि बीजेपी के स्टार प्रचारक विवेक ओबेरॉय के ड्रग कनेक्शन की जांच होनी ही चाहिए.

देखें: आजतक LIVE TV

विवेक ओबेरॉय के घर पर हुई थी पुलिस की छापेमारी

बता दें कि विवेक ओबरॉय के घर पर बेंगलुरु पुलिस ने गुरुवार को छापेमारी की थी. ये छापेमारी विवेक ओबरॉय के साले आदित्य अल्वा के मामले में की गई थी. बेंगलुरु पुलिस सर्च वारंट लेकर विवेक ओबरॉय के जुहू स्थित घर पर पहुंची थी.

बता दें कि बेंगलुरु पुलिस की सेंट्रल क्राइम ब्रांच ने विवेक के घर पर करीब ढाई घंटों तक छानबीन की थी. सीसीबी की टीम में दो इंस्पेक्टर और एक महिला अधिकारी शामिल थीं. विवेक के घर पर पुलिसकर्मी दोपहर 1 बजे के करीब पहुंचे थे. 

एक पुलिस ऑफिसर ने इस छापेमारी को लेकर कहा था, "आदित्य अल्वा फरार है. विवेक ओबेरॉय उनके रिश्तेदार हैं और हमें जानकारी मिली थी कि आदित्य उनके घर में छुपा है. तो हम चेक करना चाहते थे. इसके लिए कोर्ट से वॉरेंट लिया गया था और हमारी क्राइम ब्रांच की टीम बेंगलुरु से मुंबई में उनके घर गई थी."

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें