scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में तनाव के बीच CM उद्धव से मिले डिप्टी CM अजित पवार

महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने मंगलवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की है. यह मुलाकात ऐसे मौके पर हुई जब दोनों सहयोगी दलों के बीच कई मुद्दों पर आपसी असहमति दिख रही है.

CM उद्धव ठाकरे से मिले अजित पवार (फाइल-पीटीआई) CM उद्धव ठाकरे से मिले अजित पवार (फाइल-पीटीआई)

  • 2 जुलाई के ट्रांसफर ऑर्डर के बाद से बढ़ा विवाद
  • सोमवार को CM उद्धव से मिले थे शरद पवार
  • एक हफ्ते में 2 बार मिले CM उद्धव और पवार

कोरोना संकट से जूझ रहे महाराष्ट्र में सियासी पारा भी गरमाता दिख रहा है. सहयोगी दलों शिवसेना और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के बीच फैसलों को लेकर तकरार की स्थिति दिख रही है. इस बीच राज्य के डिप्टी सीएम अजित पवार ने मंगलवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की है.

उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने मंगलवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से मुलाकात की. यह मुलाकात ऐसे मौके पर हुई जब दोनों सहयोगी दलों के बीच कई मुद्दों पर आपसी असहमति दिख रही है.

माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने आईपीएस अफसरों के तबादले को लेकर मुख्यमंत्री कार्यालय को लूप में नहीं लिए जाने पर अपनी नाराजगी जताई. अजित पवार और उद्धव के बीच हुई इस बैठक में, शिवसेना ने इस बात पर भी नाराजगी जताई कि पारणेर में एनसीपी उनके पार्षदों को अपनी ओर करने की कोशिश कर रही है.

CM उद्धव से मिले थे पवार

इससे पहले एनसीपी प्रमुख शरद पवार सोमवार को मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के घर मातोश्री पहुंचे. पिछले एक सप्ताह में यह दूसरा मौका था, जब दोनों नेताओं ने आपस में मुलाकात की.

इसे भी पढ़ें --- सीएम उद्धव से मिलने मातोश्री पहुंचे पवार, जानिए क्यों है शिवसेना-एनसीपी में तकरार

माना जा रहा है कि एनसीपी और शिवसेना के बीच मुंबई में आईपीएस अधिकारियों के तबादले को लेकर तकरार की स्थिति है. जाहिर है गृह मंत्रालय एनसीपी के पास है. ऐसे में मुंबई में आला पुलिस अधिकारियों के तबादलों के सारे फैसले गृह मंत्री अनिल देशमुख ले रहे हैं. जबकि शिवसेना चाहती है कि किसी भी तरह के तबादले की जानकारी उनके पास होनी चाहिए.

इसे भी पढ़ें --- मुंबई में कोरोना जांच के लिए प्रिस्क्रिप्शन जरूरी नहीं, BMC ने जारी किया आदेश

महाराष्ट्र में 2 जुलाई को गृह मंत्रालय की ओर से किए गए ट्रांसफर ऑर्डर में डीसीपी को जोन और क्राइम ब्रांच तथा उनमें से कुछ को नॉन एग्जिक्यूटिव ब्रांचों से एग्जिक्यूटिव ब्रांचों में ट्रांसफर कर दिया गया था. हालांकि बाद में रविवार 5 जुलाई को मुंबई पुलिस कमिश्नर ऑफिस ने ट्रांसफर ऑर्डर को पलटने का आदेश जारी कर दिया.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें