scorecardresearch
 

कोरोना: CM उद्धव के संबोधन के बाद BMC और सख्त, शादी समारोह में मारा छापा, आयोजकों के खिलाफ केस

बीएमसी को जानकारी मिली थी कि चेंबूर के जिमखाना में एक शादी समारोह में 300-500 लोग एकत्रित हुए हैं. जबकि नए नियमों के मुताबिक पचास लोगों से ज्यादा को एक जगह पर एकत्रित होने की अनुमति नहीं है. इस मामले में बीएमसी ने कैटरिंग मैनेजर और आयोजकों के खिलाफ केस दर्ज किया है. 

महाराष्ट्र में  बीएमसी ने एक शादी में छापा मारा. (फोटो-आजतक) महाराष्ट्र में बीएमसी ने एक शादी में छापा मारा. (फोटो-आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शादी में कोरोना के नियमों का उल्लंघन
  • आयोजकों और दूल्हा-दुल्हन के माता पिता के खिलाफ केस
  • महाराष्ट्र में बढ़ रहे हैं कोरोना के मामले

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच सीएम उद्धव ठाकरे के संबोधन के बाद बीएमसी और सख्त हो गई है. राज्य में कोरोना के नियमों का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई का सिलसिला जारी है. इसी कड़ी में महाराष्ट्र के जिमखाना में एक शादी समारोह में कोरोना केे नियमों के उल्लंघन की शिकायत के बाद छापा मारा और केस दर्ज किया.

बीएमसी को जानकारी मिली थी कि चेंबूर के जिमखाना में एक शादी समारोह में 300-500 लोग एकत्रित हुए हैं. जबकि नए नियमों के मुताबिक पचास लोगों से ज्यादा को एक जगह पर एकत्रित होने की अनुमति नहीं है. इस मामले में बीएमसी ने कैटरिंग मैनेजर और आयोजकों के खिलाफ केस दर्ज किया है. 

इस मामले में मुंबई पुलिस ने दूल्हा और दुल्हन के माता -पिता, शादी के आयोजकों के खिलाफ कोरोना महामारी को लेकर जारी नियमों का उल्लंघन करने के आरोप में केस दर्ज किया है. इन लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 188, 269 और 34 के तहत केस दर्ज किया है. शादी समारोह में, बिना अनुमति के शादी, समारोह में 200 से ज्यादा लोगों की मौजूदगी, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करना, और मास्क ना पहनने जैसे नियमों का उल्लंघन किया गया.

इस बीच,मुंबई के मंत्री असलम शेख ने लोगों को  कोरोना के नियमों को लेकर चेताया है और कहा है कि नियमों का पालन नहीं करने पर लॉकडाउन लगा दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि मैं मुंबई के लोगों से अपील करता हूं कि कोरोना को लेकर जारी नियमों का पालन करें. हम जो कुछ भी कर रहे हैं आपके भले के लिए कर रहे हैं. अगर आप लोग नियमों की अनदेखी करेंगे तो हमारे पास लॉकडाउन लगाने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचेगा.हमने देखा है लॉकडाउन के चलते लोगों को कैसी परेशानियों का सामना करना पड़ता है. अगर आप लोगों को खुद को बचाना है तो आप लोगों को सरकार का साथ देना होगा. यह सरकार के साथ-साथ आप लोगों की भी जिम्मेदारी है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें