scorecardresearch
 

महाराष्ट्र में बढ़ रहा है कोरोना का कहर, मंत्री छगन भुजबल भी पॉजिटिव

महाराष्ट्र में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं और इसकी चपेट में फिर से वीवीआईपी आ रहे हैं. अब महाराष्ट्र सरकार में मंत्री छगन भुजबल के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है.

महाराष्ट्र सरकार में मंत्री छगन भुजबल (फाइल फोटो) महाराष्ट्र सरकार में मंत्री छगन भुजबल (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • छगन भुजबल ने खुद ट्वीट करके दी जानकारी
  • महाराष्ट्र में तेजी से बढ़े रहे कोरोना के नए मामले

महाराष्ट्र में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं और इसकी चपेट में फिर से वीवीआईपी आ रहे हैं. अब महाराष्ट्र सरकार में मंत्री छगन भुजबल के कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है. छगन भुजबल ने खुद ट्वीट करके इसकी जानकारी दी. साथ ही छगन भुजबल ने लोगों से कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने की अपील की.

मंत्री छगन भुजबल ने ट्वीट करके कहा, 'मेरा कोरोना परीक्षण सकारात्मक है, पिछले दो-तीन दिनों में जो भी लोग मेरे संपर्क में आए हैं, उन्हें अपना कोरोना परीक्षण करना चाहिए, मेरा स्वास्थ्य अच्छा है और चिंता की कोई बात नहीं है, सभी नागरिकों को कोरोना को लेकर सावधानी बरतनी चाहिए और नियमों का पालन करना चाहिए.'

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में रविवार को कोरोना वायरस के 6971 नए मरीजों की पुष्टि हुई है जिसके बाद कुल मामले 21 लाख के पार हो गए हैं. राज्य में यह तीसरा दिन है जब संक्रमण के मामलों की संख्या 6000 से अधिक है. राज्य में करीब 3 महीने के बाद शुक्रवार को 6000 से ज्यादा मामले दर्ज किए गए थे. रविवार को 35 संक्रमितों की मौत हुई जिसके बाद मृतक संख्या 51,788 हो गई है. वहीं कुल मामले 21,00,884 हो गए हैं.

कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए उद्धव सरकार हरकत में आ गई है. सीएम उद्धव ठाकरे ने रविवार को कहा कि कोरोना के प्रसार को रोकने के लिए अगले 8 दिन बेहद जरूरी हैं. आठ से 15 दिन में पता चलेगा कि क्या यह दूसरी लहर है. सीएम ने कहा कि हम किसी भी सिंगल मशीनरी पर ज्यादा भार नहीं डाल सकते हैं. हमें जिम्मेदारी लेनी होगी. हम एक नए कैंपेन की शुरुआत कर रहे हैं- 'I am Responsible'.

इसके साथ ही सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि अमरावती में आज (रविवार) लगभग एक हजार मामले आए हैं. यह चिंता का विषय है. कोरोना पर नियंत्रण को लेकर हमारी तैयारी पूरी है, लेकिन लोगों को भी सतर्कता बरतनी होगी. लोग मास्क नहीं पहनेंगे तो लाकडाउन करना पड़ेगा. फिलहाल कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए सोमवार से सरकारी मीटिंग्स, धार्मिक सभाओं, राजनीतिक रैलियों पर रोक लगाई जा रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें