scorecardresearch
 

मुंबई: अब 90 दिन बाद लगवा सकेंगे कोरोना का बूस्टर डोज, सिर्फ विदेश यात्रा करने वालों को छूट

केंद्र सरकार ने विदेश यात्रा करने वाले लोगों को कोरोना के बूस्टर डोज को लेकर बड़ी राहत दी है. सरकार ने कोरोना की दूसरी और बूस्टर डोज के अंतर को घटाकर सिर्फ 90 दिन कर दिया है.

X
बीएमसी ने बूस्टर डोज को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी. बीएमसी ने बूस्टर डोज को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • BMC ने सभी निजी और सरकारी टीकाकरण केंद्रों के लिए आदेश जारी किए
  • केंद्र सरकार ने अब 9 महीने की बजाय 90 दिन में बूस्टर डोज की मंजूरी दी है

मुंबई में कोरोना के बूस्टर डोज को लेकर बीएमसी ने नए आदेश जारी कर दिए हैं. अब विदेश जाने वालों को 9 महीने की बजाय सिर्फ 90 दिन बाद ही बूस्टर डोज लगाया जा सकेगा. इस संबंध में दो दिन पहले ही केंद्र सरकार की तरफ से मंजूरी दी गई थी.

बता दें कि केंद्र सरकार ने विदेश यात्रा करने वाले लोगों को कोरोना के बूस्टर डोज को लेकर बड़ी राहत दी है. सरकार ने कोरोना की दूसरी और बूस्टर डोज के अंतर को घटाकर सिर्फ 90 दिन कर दिया है. पहले 9 महीने बाद बूस्टर डोज लग सकती थी. अब सरकार ने सिर्फ विदेश जाने वाले लोगों को 90 में ही बूस्टर डोज लगवाने की सुविधा दी है. 

इस संबंध में सरकार की मंजूरी मिलते ही बीएमसी ने व्यवस्थाओं को लागू कर दिया. बीएमसी की तरफ से बताया गया कि बूस्टर डोज का समय बदल जाने से कोविन ऐप को भी मोडिफाइड कर दिया गया है. बीएमसी के अधिकार क्षेत्र में आने वाले सभी निजी और सरकारी टीकाकरण केंद्रों के लिए आदेश जारी किए गए हैं. अभी सिर्फ उन लोगों को ही 90 दिनों की छूट दी जा रही है, जिन्हें विदेश यात्रा करना है.

बता दें कि कोरोना की चौथी लहर की आशंका के बीच महामारी से निपटने की पुख्ता तैयारियां की जा रही हैं. सरकार अब पांच साल से ऊपर के बच्चों का वैक्सीनेशन दिए जाने की तैयारी कर रही है. ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने फैसला लिया था कि 5 साल से ऊपर के बच्चों को वैक्सीन लगेगी. इसके साथ ही बूस्टर डोज के गैप को कम करके 6 महीने किया जा सकता है. ये गैप अभी 9 महीने का है. इससे पहले तक 12 साल से ऊपर के बच्चों को कोरोना टीका लग रहा था. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें