scorecardresearch
 

MP: विदिशा और छिंदवाड़ा में भगदड़ जैसी स्थिति, सरकार का दावा- वैक्सीन की कमी नहीं

मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा के लोधीखेड़ा गांव में एक सेंटर के बाहर भगदड़ जैसी स्थिति हो गई, जहां 2,000 से ज्यादा लोग वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंचे जबकि केंद्र को सिर्फ 200 डोज आवंटित की गई थी.

X
MP में टीकाकरण केंद्रों में पर वैक्सीन के लिए अपनी बारी का इंतजार करते लोग (फोटो-हेमेंद्र)
MP में टीकाकरण केंद्रों में पर वैक्सीन के लिए अपनी बारी का इंतजार करते लोग (फोटो-हेमेंद्र)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • विदिशा में 10 केंद्र, 6,000 वैक्सीन, 20 हजार से ज्यादा पहुंचे-सूत्र
  • लोधीखेड़ा गांव के केंद्र में 200 डोज, 2,000 से ज्यादा लोग पहुंच गए
  • अधिक से अधिक लोगों को वैक्सीन लगवाने की कोशिशः मंत्री

मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य में वैक्सीन की किसी भी कमी से इनकार किया है, यहां तक ​​कि गुरुवार को विदिशा और छिंदवाड़ा जिलों में टीकाकरण केंद्रों के बाहर भगदड़ जैसी स्थिति देखी गई थी. राज्य सरकार द्वारा संचालित टीकाकरण कार्यक्रम राज्यभर में हर हफ्ते चार दिन (सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शनिवार) आयोजित किए जाते हैं.

विदिशा जिला मुख्यालय में गुरुवार को कई टीकाकरण केंद्रों के बाहर हैरान कर देने वाला नजारा देखने को मिला. बड़ी संख्या में लोगों के पहुंचने की वजह से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो सका और लोग एक-दूसरे से चिपके हुए दिखाई दिए. यहां तक लोग धक्का-मुक्की करते दिखे. कई जगहों पर लोगों की लंबी-लंबी कतार भी दिखाई दी. वैक्सीन लगवाने आए काफी लोगों ने मास्क तक नहीं लगा रखा था.

विदिशा में 10 टीकाकरण केंद्रों को कुल 6,000 वैक्सीन आवंटित किए गए थे और एक सूत्र के अनुमान के अनुसार, 20,000 से अधिक लोग टीकाकरण के लिए आए थे.

इसे भी क्लिक करें --- MP: 250 वैक्सीन डोज के लिए पहुंचे 500 से ज्यादा लोग, शटर खुलते ही मची भगदड़

 

वैक्सीन के लिए लगी लंबी लाइन
वैक्सीन के लिए लगी लंबी लाइन

विदिशा के सिटी हॉस्पिटल व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस को बुलाना पड़ा क्योंकि भीषण गर्मी के बीच दिनभर लंबी कतारों में खड़े लोग परेशान होने लगे थे. लोग शाम छह बजे तक कतारों में खड़े रहे और अधिकांश लोगों को बिना वैक्सीन लगवाए निराश होकर लौटना पड़ा.

 

छिंदवाड़ाः लोधीखेड़ा गांव में भगदड़ जैसी स्थिति
इसी तरह छिंदवाड़ा के लोधीखेड़ा गांव में एक सेंटर के बाहर भगदड़ जैसी स्थिति हो गई, जहां 2,000 से ज्यादा लोग वैक्सीन लगवाने के लिए पहुंचे जबकि केंद्र को सिर्फ 200 डोज आवंटित की गई थी.

 

पुलिस ने बताया कि सुबह से ही टीकाकरण केंद्र पर महिलाओं सहित बड़ी संख्या में लोग पहुंच गए. इस बीच हाथापाई हुई जिसमें कुछ लोगों को मामूली चोटें आईं. पुलिस ने कहा कि कुछ लोगों ने बैरिकेड्स तोड़ने की भी कोशिश की, हालांकि पुलिस ने स्थिति को नियंत्रण में बनाए रखा.

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि ये घटनाएं इसलिए हुईं क्योंकि बड़ी संख्या में लोग आए थे. लेकिन हमने गुरुवार को भी पूरे राज्य में 9 लाख 82 हजार लोगों को वैक्सीन लगाए. हमारा ध्यान अब शनिवार को दूसरी डोज पर होगा, इसलिए हो सकता है कि संख्या में कमी आए. उन्होंने कहा कि हम कम से कम समय में अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण करने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं. यहां पर वैक्सीन की कोई कमी नहीं है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें