scorecardresearch
 

कमलनाथ को चुनाव आयोग का फरमान, आइटम वाले बयान पर 48 घंटे में मांगी सफाई

मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी को 'आइटम' कहने पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ गईं हैं. चुनाव आयोग ने उनसे 48 घंटे में जवाब मांगा है.

X
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मध्य प्रदेश के पूर्व सीेएम कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ गईं हैं
  • राहुल गांधी ने कमलनाथ के बयान पर जताई थी असहमति
  • माफी के सवाल पर बोले- मैं क्यों माफी मांगूंगा?

मध्य प्रदेश की कैबिनेट मंत्री इमरती देवी को 'आइटम' कहने पर पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता कमलनाथ की मुश्किलें बढ़ गईं हैं. चुनाव आयोग ने उनसे 48 घंटे में जवाब मांगा है.

बता दें कि कमलनाथ मध्य प्रदेश के डाबरा में कांग्रेस प्रत्याशी सुरेश राजे के समर्थन में प्रचार करने पहुंचे थे. इस दौरान उन्होंने मंच से कहा कि सुरेंद्र राजेश हमारे उम्मीदवार हैं, सरल स्वभाव के सीधे साधे हैं. यह उसके जैसे नहीं है, क्या है उसका नाम? मैं क्या उसका नाम लूं आप तो उसको मुझसे ज्यादा अच्छे से जानते हैं, आपको तो मुझे पहले ही सावधान कर देना चाहिए था, 'यह क्या आइटम है'.

वहीं, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान पर असहमति जताई थी. वायनाड दौरे के दौरान राहुल गांधी ने कहा कि मुझे ऐसी भाषा पसंद नहीं है, मैं ऐसी भाषा की सराहना नहीं करता हूं. वहीं, कमलनाथ से जब राहुल गांधी की टिप्पणी को लेकर सवाल हुआ तो उन्होंने कहा कि वो राहुल गांधी की राय है, मैं तो पहले ही कह चुका हूं कि मैंने किस संदर्भ में कहा था.

मैं क्यों माफी मांगूंगा?

कांग्रेस नेता कमलनाथ से सवाल हुआ कि क्या वो माफी मांगेंगे? तो कमलनाथ ने कहा कि मैं क्यों माफी मांगूंगा? मैंने तो कल ही कह दिया है कि अगर किसी को गलत महसूस हुआ तो वह खेद प्रकट करता हूं. शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कमलनाथ ने कहा कि शिवराज जी को खुद ही जनता के बीच में जाकर माफी मांगनी चाहिए. शिवराज सिंह चौहान पर निशाना साधते हुए कमलनाथ ने कहा कि शिवराज जी को खुद ही जनता के बीच में जाकर माफी मांगनी चाहिए.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें