scorecardresearch
 

BJP सांसद की अमित शाह को चिट्ठी, लव जिहाद के खिलाफ संसद में कानून बनाने की मांग

उत्तर प्रदेश, हरियाणा के बाद अब मध्य प्रदेश में भी लव जिहाद के खिलाफ कानून बनाने की मांग उठी है. इस मसले पर बीजेपी सांसद ने गृह मंत्री अमित शाह को चिट्ठी लिखी है.

X
भारतीय जनता पार्टी के सांसद अनिल फिरोजिया ने लिखी चिट्ठी (बीच में) भारतीय जनता पार्टी के सांसद अनिल फिरोजिया ने लिखी चिट्ठी (बीच में)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लव जिहाद पर संसद में कानून बनाने की मांग
  • बीजेपी सांसद ने अमित शाह को लिखी चिट्ठी

उत्तर प्रदेश के बाद देश के अलग-अलग हिस्सों में लव जिहाद के मसले पर कानून बनाने की चर्चा शुरू हो गई है. इस बीच मध्य प्रदेश के उज्जैन से भारतीय जनता पार्टी के सांसद अनिल फिरोजिया ने इस मसले पर एक चिट्ठी केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को लिखी है. 

बीजेपी सांसद की मांग है कि लव जिहाद के खिलाफ संसद में एक सख्त कानून लाया जाए, जिससे पूरे देश में इसे लागू किया जा सके.

देखें: आजतक LIVE TV


अपनी चिट्ठी में सांसद ने लिखा है कि भोपाल में हाल ही में एक लव जिहाद का मामला सामने आया है, जहां एक हिन्दू लड़की को धर्म बदलने के लिए प्रताड़ित किया जा रहा है. इसके अलावा यूपी, मध्य प्रदेश, राजस्थान, हरियाणा और दिल्ली के कई मसलों का जिक्र चिट्ठी में किया गया है. 


इस मसले पर केंद्रीय संसदीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा है कि एक राज्य की हाईकोर्ट ने टिप्पणी की है कि शादी के लिए धर्म बदलना स्वीकार नहीं है, ऐसे में हम इस मसले को गंभीरता से ले रहे हैं. धर्मांतरण स्वीकार नहीं किया जा सकता है, ऐसे में इस मसले पर या तो नया कानून लाया जाएगा या फिर पुराने को मजबूत किया जाएगा. 

बता दें कि बीते दिनों ही उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि उत्तर प्रदेश में लव जिहाद के खिलाफ सख्त कानून बनाया जाएगा. जिसके बाद पहले हरियाणा और फिर मध्य प्रदेश की सरकारों ने भी ऐसा ही कानून लाने के संकेत दिए थे. 

यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने उपचुनाव में प्रचार के दौरान इलाहाबाद हाईकोर्ट की एक टिप्पणी का हवाला दिया था, तो वहीं अनिल विज ने हाल ही में प्रदेश में हुई एक युवती की हत्या के केस को हवाला बनाया था. वहीं, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी चुनाव प्रचार के दौरान कानून लाने की बात कही थी.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें