scorecardresearch
 

MP: 8 महीने में एक भी छुट्टी नहीं, कोरोना वैक्सीन की 61 हजार डोज लगा चुकी हैं गायत्री, मंत्री ने किया सम्मानित

गायत्री श्रीवास्तव 25 जनवरी से बिना छुट्टी लिए वैक्सीन की 61 हजार डोज लगा चुकी हैं. गायत्री का कहना है कि उन्होंने एक लाख लोगों को वैक्सीन लगाने का संकल्प लिया है.

एएनएम को मंत्री विश्वास सारंग ने किया सम्मानित एएनएम को मंत्री विश्वास सारंग ने किया सम्मानित
स्टोरी हाइलाइट्स
  • 25 जनवरी से वैक्सीनेशन में जुटी हैं एएनएम
  • काटजू अस्पताल में तैनात हैं गायत्री श्रीवास्तव

कोरोना वायरस की महामारी से बचाव के लिए वैक्सीनेशन का अभियान चल रहा है. देश भर में लाखों हेल्थ वर्कर्स जनवरी के महीने से लेकर अब तक कोरोना वैक्सीनेशन की ड्यूटी पर लगे हुए हैं लेकिन इनमे से कुछ ऐसे भी हैं जिन्होंने अपने जुनून से अलग पहचान बना ली है. ऐसी ही एक हेल्थ वर्कर भोपाल में हैं. इस हेल्थ वर्कर ने जनवरी से लेकर अबतक एक भी दिन की छुट्टी नहीं ली है. अब तक ये कोरोना वैक्सीन की 61 हजार से ज्यादा डोज लगा चुकी हैं. 

भोपाल की रहने वाली काटजू अस्पताल की एएनएम (सहायक नर्स मिडवाइफ) गायत्री श्रीवास्तव पहले दिन से ही कोरोना वैक्सीनेशन अभियान में लगी हुई हैं. काम के प्रति उनका समर्पण किस हद तक है, उसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि गायत्री श्रीवास्तव 25 जनवरी से बिना छुट्टी लिए वैक्सीन की 61 हजार से ज्यादा डोज लगा चुकी हैं. गायत्री का कहना है कि उन्होंने एक लाख लोगों को वैक्सीन लगाने का संकल्प लिया है.

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग जब वैक्सीनेशन अभियान के तहत काटजू अस्पताल पहुंचे तो उन्हें गायत्री श्रीवास्तव के बारे में पता चला जिसके बाद उन्होंने उनकी सराहना की और सम्मान भी किया. मंत्री सारंग ने कहा कि 'गायत्री जैसे स्वास्थ्यकर्मियों के कारण ही प्रदेश वैक्सीनेशन में हर दिन नए कीर्तिमान स्थापित कर रहा है. गौरतलब है कि भोपाल की गायत्री श्रीवास्तव अकेली नहीं है जो बिना रुके, बिना थके वैक्सीनेशन के महा अभियान में जुटी हुई है.

गायत्री से अधिक वैक्सीन की डोज मध्य प्रदेश के छतरपुर अस्पताल की एएनएम माया अहिरवार लगा चुकी हैं. माया अहिरवार जनवरी से अबतक बिना छुट्टी लिए वैक्सीन की 64 हजार डोज लगा चुकी हैं. माया अहिरवार के साथ अब गायत्री श्रीवास्तव का नाम भी जुड़ गया है. दोनों एएनएम के नाम और उपलब्धि की चर्चा हर ओर हो रही है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें