scorecardresearch
 

जम्मू: एक घंटे में तीन जगह दिखे संदिग्ध ड्रोन, BSF ने फायरिंग कर खदेड़ा

जम्मू में एक ड्रोन सांबा में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास देखा गया. दूसरा सांबा जिले में ही घगवाल के पास मौजूद ITBP कैंप के पास और तीसरा सांबा जिले के बारी क्षेत्र के आर्मी कैंप के पास.

जम्मू में दिखे तीन संदिग्ध ड्रोन (सांकेतिक तस्वीर) जम्मू में दिखे तीन संदिग्ध ड्रोन (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जम्मू क्षेत्र में फिर संदिग्ध ड्रोन देखे गए
  • एक घंटे में तीन जगह संदिग्ध ड्रोन दिखे

जम्मू कश्मीर में एक बार फिर संदिग्ध ड्रोन देखे गए हैं. मिली जानकारी के मुताबिक, जम्मू क्षेत्र में गुरुवार को तीन अलग-अलग इलाकों में संदिग्ध ड्रोन देखे गए. ये ड्रोन रात को 8.30 से 9.30 के बीच देखे गए हैं. इनमें से दो ड्रोन आर्मी कैंप और ITBP कैंप के पास देखे गए. सुरक्षा बलों की तरफ से उनपर गोलीबारी की गई, लेकिन तीनों ही ड्रोन वहां से बचकर निकल गए.

मिली जानकारी के मुताबिक, एक ड्रोन सांबा में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास देखा गया. दूसरा सांबा जिले में ही घगवाल के पास मौजूद ITBP कैंप के पास और तीसरा सांबा जिले के बारी क्षेत्र के आर्मी कैंप के पास. BSF ने संदिग्ध ड्रोन पर अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कुछ गोलियां भी चलाई थीं. लेकिन वे बचकर निकल गए और फिर गायब हो गए.

ड्रोन हमले को किया गया था नाकाम

इससे पहले 23 जुलाई को जम्मू कश्मीर पुलिस ने जम्मू जिले के सीमावर्ती इलाके में पांच किलोग्राम वजन की विस्फोटक सामग्री (आईईडी) ले जा रहे ड्रोन को मार गिराया था. बताया गया था कि ड्रोन में लगभग तैयार अवस्था में पांच किलोग्राम आईईडी सामग्री थी जिसमें विस्फोट से पहले सिर्फ तारों को जोड़ना बाकी था. 

ड्रोन छह पहियों वाला हेक्जा-एम-कॉप्टर था और उसमें जीपीएस तथा उड़ान को नियंत्रित करने वाला उपकरण भी लगा था. पुलिस की तरफ से कहा गया था कि उन्होंने संभावित आईईडी विस्फोट को रोक दिया. ड्रोन से जिस आईईडी को गिराया जाना था उसके तार जम्मू वायुसेना स्टेशन के हवाईअड्डा से मिली विस्फोटक सामग्री से मेल खा रहे थे, कहा गया था कि इससे पुष्टि होती है कि जम्मू एयरबेस पर आईईडी गिराने के लिए ड्रोन का इस्तेमाल हुआ था. एयरबेस पर पिछले महीने के आखिर में दो ब्लास्ट हुए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें