scorecardresearch
 

हिमाचल प्रदेश में बड़ा हादसा, गोविंद सागर झील में 7 पर्यटक डूबे

हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में बड़ा हादसा हो गया. यहां गोविंद सागर झील में डूबने से पंजाब के सात युवकों की मौत की आशंका है. बताया जा रहा है कि 11 पर्यटक झील में नहाने पहुंचे थे.

X
झील के पास मौजूद गोताखोर. झील के पास मौजूद गोताखोर.

हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में बाबा गरीबनाथ मंदिर के पास गोविंद सागर झील में सात पर्यटक लापता हो गए. बताया जा रहा है कि कुल 11 पर्यटक झील में नहाने पहुंचे थे. इस दौरान सभी झील में तैरने लगे तो एक-एक कर सात लोग डूब गए. वहीं चार लोग झील से निकल आए. अब इन सात पर्यटकों की मौत की आशंका जताई जा रही है.

एजेंसी के अनुसार, ऊना के डीईओसी ने बताया कि उपमंडल बंगाणा स्थित गरीब नाथ मंदिर के पास गोविंद सागर में सात लोग डूब गए. बताया जा रहा है कि 11 लोग गोविंद सागर झील में नहाने पहुंचे थे. 11 जिनमें से 4 लोग निकल आए, जबकि 7 लोग डूब गए.

ऊना के एसपी अरिजीत सेन ने बताया कि पुलिस, प्रशासन और बचाव दल तैनात है. लोगों के डूबने की घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस और आपदा प्रबंधन की टीमें घटनास्थल पर पहुंच गईं. एसपी ने बताया कि गोविंद सागर झील में लापता हुए सभी 7 लोगों के बारे में उनके परिवारों को सूचित कर दिया गया है.

पंजाब के बानूर जिले के मोहाली के सात युवक दोपहर करीब 3.40 बजे गोविंद सागर में नहाने पहुंचे थे. इन सभी ने झील में तैरने का फैसला किया. झील में तैरने के दौरान एक पर्यटक डूबने लगा तो दूसरे ने उसे बचाने की कोशिश की. इस दौरान चार लोग झील से निकल आए. बंगाणा सब डिविजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) योग राज धीमान ने इंडिया टुडे से बात करते हुए पुष्टि की है कि झील में सात लोग डूब गए. इसके बाद बीबीएमबी के गोताखोरों को बुलाया गया. डूबने वालों की उम्र 16 से 18 साल के बीच बताई जा रही है, वहीं एक की उम्र करीब 30 साल है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें