scorecardresearch
 

गैंगरेप केस: हिमाचल प्रदेश कांग्रेस में बगावत, सीएम वीरभद्र को कुर्सी से हटाने की मांग

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस में गैंग रेप और और मर्डर केस को लेकर बगावत शुरु हो गई है. 6 कांग्रेस विधायकों ने हाईकमान को चिट्ठी भेजी है. उन्होंने सीएम वीरभद्र को कुर्सी से हटाने की मांग की है.

सीएम वीरभद्र को कुर्सी से हटाने की मांग सीएम वीरभद्र को कुर्सी से हटाने की मांग

हिमाचल प्रदेश कांग्रेस में गैंग रेप और और मर्डर केस को लेकर बगावत शुरु हो गई है. 6 कांग्रेस विधायकों ने हाईकमान को चिट्ठी भेजी है. उन्होंने सीएम वीरभद्र को कुर्सी से हटाने की मांग की है.

ये था पूरा मामला

4 जुलाई को आरोपी राजेंद्र उर्फ राजू और अपने दोस्त आशीष और सुभाष के साथ स्प्रे करने वाली मशीन लेकर कहीं जा रहा था. इस दौरान उसने 10वीं में पढ़ने वाली छात्रा गुड़िया को देखा और गाड़ी रोककर उसे घर तक लिफ्ट देने की बात कही. गुड़िया इलाके में नई आई थी और बीते मई ही उसने स्कूल में दाखिला लिया था. गुड़िया राजू को जानती थी, लिहाजा वह उसके साथ गाड़ी में बैठ गई. दरअसल राजू अक्सर स्कूली बच्चों को ले जाता था, जिससे गुड़िया को भी उस पर शक नहीं हुआ.

यह भी पढ़े-हिमाचल प्रदेशः पुलिस ने किया गैंगरेप-हत्या का खुलासा, ऐसे हुई थी गुड़िया से दरिंदगी

शराब के नशे में की दरिंदगी

पुलिस के मुताबिक, राजू और उसके दोस्त शराब के नशे में धुत थे. उन्होंने बीच जंगल में सामान उतारने का बहाना बनाते हुए गाड़ी रोक दी. मासूम के साथ गैंगरेप किया. अपने तीन साथियों को भी वहां बुला लिया और फिर गुड़िया की बेरहमी से हत्या कर उसकी लाश को जंगल में फेंक दिया.    

बता दें कि गुड़िया को इंसाफ दिलाने के लिए मंगलवार गुम्मा कस्बे में 24 पंचायतों के चार हजार लोगों ने प्रदर्शन किया था. गुस्साए लोगों ने ठियोग-हाटकोटी नेशनल हाईवे पर सात घंटे तक जाम लगा दिया था. लोग इतने गुस्से में थे कि एक गाड़ी को तोड़ दिया. मौके पर पहुंचे एसडीएम टशी संडूप को कमरे में बंद कर दिया.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें