scorecardresearch
 

सड़क पर किसान, ट्विटर पर खट्टर-अमरिंदर में घमासान

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के बीच किसानों के मुद्दों को लेकर जुबानी जंग तेज हो गई है. सीएम खट्टर ने ट्वीट करके कहा है कि एमएसपी को लेकर किसी तरह की परेशानी किसानों को झेलनी पड़ेगी तो वह राजनीति छोड़ देंगे.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (फाइल फोटो-पीटीआई) हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर (फाइल फोटो-पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी
  • अब इस पर सियासी जुबानी जंग तेज हो गई है
  • किसानों से सीएम खट्टर को बात करनी चाहिए थीः कैप्टन

केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों ने सड़क पर मोर्चा खोल दिया है. अब इस पर सियासी रंग चढ़ने लगा है. पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर के बीच ठन गई है. सीएम मनोहर लाल खट्टर ने ट्वीट करके कहा है कि एमएसपी को लेकर किसी तरह की परेशानी किसानों को झेलनी पड़ेगी तो वह राजनीति छोड़ देंगे.

सीएम खट्टर ने ट्वीट करके कहा कि 'कैप्टन जी, मैंने इसे पहले कहा है और मैं इसे फिर से कह रहा हूं, मैं राजनीति छोड़ दूंगा अगर एमएसपी पर किसानों को कोई परेशानी होगी. इसलिए, निर्दोष किसानों को उकसाना बंद करें.'

मुख्यमंत्री ने कहा, 'मैं पिछले 3 दिनों से आपसे संपर्क करने की कोशिश कर रहा हूं, लेकिन दुख की बात है कि आपने संपर्क साधने का फैसला ही नहीं किया है. क्या यह किसान के मुद्दों के लिए आपकी गंभीरता नहीं दिखाता? आप केवल ट्वीट कर रहे हैं और बातचीत से भाग रहे हैं. आप ऐसा क्यों कर रहे हैं?'

मनोहरलाल खट्टर ने कहा, 'आपके झूठ, धोखे और प्रॉपगेंडा का वक्त खत्म हो गया है. वक्त आ गया है कि लोग अब आपका असली चेहरा देखें. कोरोना महामारी के दौरान लोगों के जीवन को खतरे में डालना बंद करें. मैं आपसे लोगों के जीवन के साथ नहीं खेलने का आग्रह करता हूं. कम से कम महामारी के समय सस्ती राजनीति से बचें.'

खट्टर पर कैप्टन का पलटवार

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पटलवार किया है. कैप्टन ने कहा कि किसानों पर आपकी प्रतिक्रिया चौंकाने वाली है. ये किसान हैं, जिन्हें एमएसपी पर आश्वत होना है, मुझे नहीं. किसानों के दिल्ली चलो आंदोलन से पहले आपको उनसे बात करनी चाहिए थी. अगर आपको लगता है कि मैं किसानों को उकसा रहा हूं तो हरियाणा के किसान भी दिल्ली क्यों मार्च कर रहे हैं?

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें