scorecardresearch
 

देश की पहली बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए कर्मचारियों की भर्ती शुरू

नेशनल हाई स्पीड रेलवे कॉरपोरेशन लिमिटेड ने  देश की पहली बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए कर्मचारियों की भर्ती शुरू की है. पहले बैच में 13 लोगों की भर्ती बुलेट ट्रेन के ऑपरेशन और मेंटेनेंस के लिए की जाएगी.

बुलेट ट्रेन बुलेट ट्रेन

नेशनल हाई स्पीड रेलवे कॉरपोरेशन लिमिटेड  (एनएचएसआरसीएल) ने  हाई स्पीड रेल ऑपरेशंस और मेंटेनेंस के लिए भर्ती का विज्ञापन जारी कर दिया है. एनएचएसआरसीएल की प्रवक्ता सुषमा गौर के मुताबिक अहमदाबाद से मुंबई के बीच बुलेट ट्रेन चलाने के लिए ट्रेन ऑपरेशन, रोलिंग स्टॉक, सिग्नलिंग एंड टेलीकम्युनिकेशन, और इलेक्ट्रिकल के लिए मिडिल लेवल मैनेजमेंट पदों पर पहले बैच की भर्ती का अभियान शुरू हो गया है. नेशनल हाई स्पीड रेलवे कॉरपोरेशन लिमिटेड ने इस तरह के 13 पदों के लिए वैकेंसी निकाली है.

एनएचएसआरसीएल के मुताबिक पहले बैच में 13 लोगों की भर्ती बुलेट ट्रेन के ऑपरेशन और मेंटेनेंस के लिए की जाएगी. इन लोगों को ऑपरेशंस और मेंटेनेंस के लीडर्स के तौर पर ट्रेनिंग दी जाएगी. चयनित लोगों की  जिम्मेदारी होगी कि वो मुंबई अहमदाबाद हाई स्पीड रेलवे कॉरिडोर के लिए ऑपरेशंस और मेंटेनेंस से संबंधित संस्था को स्थापित करें. साथ ही साथ इससे जुड़े अन्य लोगों को ट्रेनिंग दें.

पहले बैच के कर्मचारियों को जापान में  Shinkansen systems operations का प्रशिक्षण दिया जाएगा. चूकि सभी कर्मचारियों को जापान में प्रशिक्षण दिया जाएगा इसलिए इन 13 पदों के लिए जिन कर्मचारियों को चुना जाएगा उनके लिए जापानी भाषा का ज्ञान होना जरूरी होगा. इसीलिए इन सभी पदों के लिए जापानी भाषा जानना अपेक्षित योग्यता है.

अहमदाबाद मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना के लिए इसी वित्तीय वर्ष में 26 ड्राइवरों को बुलेट ट्रेन चलाने की ट्रेनिंग दिए जाने की योजना है. इसके बाद अगले साल 30 और कर्मचारियों को इसी तरह की ट्रेनिंग दी जाएगी. इन सभी कर्मचारियों को वड़ोदरा में हाई स्पीड रेलवे ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट  में ट्रेनिंग दी जाएगी. इन सभी लोगों को वही कर्मचारी ट्रेनिंग देंगे जो जापान से प्रशिक्षण लेकर आएंगे. जानकारों के मुताबिक अहमदाबाद मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना में 4000 कर्मचारियों की भर्ती की जानी है.  इन सभी को हाई स्पीड ट्रेन ऑपरेशन की ट्रेनिंग दी जाएगी.

आपको बता दें कि अहमदाबाद मुंबई बुलेट ट्रेन परियोजना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ड्रीम प्रोजेक्ट है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें