scorecardresearch
 

गुजरात पर महाराष्ट्र का असर, आरक्षण की मांग तेज करेंगे पाटीदार

महाराष्ट्र सरकार ने मराठाओं को 16 प्रतिशत आरक्षण देने का ऐलान कर दिया है. इसी आधार पर गुजरात में पाटीदारों ने भी अपनी मांग तेज करने का फैसला किया है.

फाइल फोटो (इंडिया टुडे आर्काइव) फाइल फोटो (इंडिया टुडे आर्काइव)

महाराष्ट्र की बीजेपी सरकार ने मराठाओं को 16 प्रतिशत आरक्षण देने की घोषणा कर दी है. इसे देखते हुए गुजरात के पाटीदारों ने भी अपने आरक्षण की मांग तेज कर दी है. इस मुद्दे पर लंबे दिनों से आंदोलन कर रहे हार्दिक पटेल ने आरक्षण की लड़ाई तेज करने का ऐलान किया है.

मराठा आरक्षण को लेकर पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने शुक्रवार को कहा कि 'पाटीदार और मराठाओं की मांग एक जैसी ही थी. महाराष्ट्र सरकार ने ओबीसी कमीशन को सर्वे करने का आदेश दिया और उसी आधार पर वहां आरक्षण का फैसला लिया गया लेकिन गुजरात में अब तक सर्वे का आदेश भी नहीं दिया गया है. समय पर सर्वे हो जाए तो इससे पता चल जाएगा कि पाटीदारों को आरक्षण की जरूरत है या नहीं.'

आपको बता दें कि पाटीदार आरक्षण समिति ने सर्वे की मांग को लेकर दो बार ओबीसी कमीशन को ज्ञापन दिया है. ओबीसी कमीशन सरकार के कहने पर सर्वे करता है लेकिन अभी तक सर्वे का आदेश नहीं दिया गया है. हार्दिक पटेल का कहना है कि महाराष्ट्र सरकार की घोषणा के तुरंत बाद गुजरात में पाटीदारों के आरक्षण की लड़ाई और तेज की जाएगी.

गुजरात में पिछले 3 साल से पाटीदार आरक्षण की मांग काफी तेज हुई है. पाटीदारों के आरक्षण का मुद्दा पिछले विधानसभा चुनाव में काफी गर्म रहा जिसका खामियाजा बीजेपी को भुगतना पड़ा क्योंकि पाटीदारों की नाराजगी के चलते उसकी सीटें घट गईं. अगर यह आंदोलन ज्यादा जोर पकड़ता है, तो बीजेपी को 2019 लोकसभा चुनाव में भी सीटों का घाटा हो सकता है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें