scorecardresearch
 

सरकार कानून बना कर मंदिर निर्माण करवाए- विश्व हिंदू परिषद

राम मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद के नेताओं ने शुक्रवार को केंद्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से उनके घर पर मुलाकात की और उन्होंने हर्षवर्धन को एक मेमोरेंडम भी दिया. विश्व हिंदू परिषद के प्रांतीय मंत्री बच्चन सिंह ने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण करने में देरी नहीं होनी चाहिए.

बीजेपी नेता हर्ष वर्धन (तस्वीर- PTI) बीजेपी नेता हर्ष वर्धन (तस्वीर- PTI)

राम मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद के नेताओं ने सरकार के मंत्रियों से मिलकर दबाव बनाना शुरू कर दिया है. ताकि वह अपने स्तर पर सरकार में मंदिर निर्माण को लेकर पहल करें और कानून बनाने की दिशा में आगे बढ़ें. जिससे अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण किया जा सके.

इसी सिलसिले में आज दिल्ली विश्व हिंदू परिषद के नेता मंदिर निर्माण को लेकर केंद्रीय पर्यावरण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन से उनके घर पर मिलने पहुंचे और उन्होंने हर्षवर्धन को एक मेमोरेंडम भी दिया. विश्व हिंदू परिषद के प्रांतीय मंत्री बच्चन सिंह ने कहा कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण करने में देरी नहीं होनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि सालों से यह मामला न्यायालय में विचाराधीन है. लेकिन विरोधी पक्ष ने मुकदमे की सुनवाई टालने के लिए हर प्रकार की चालें चली हैं. इतना ही नहीं, 29 अक्टूबर 2018 को भी जनवरी 2019 तक सुनवाई टाल दी गई है. आगे क्या होगा कुछ निश्चित नहीं है. ऐसी स्थिति में अनुरोध है कि अपनी सरकार को कहें कि अब कानून बनाकर राम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बनाने का रास्ता साफ करें.

विश्व हिंदू परिषद के नेताओं का कहना है कि हिंदू समाज 1528 से ही राम जन्म भूमि पर राम मंदिर के लिए लगातार संघर्ष करता रहा है. वास्तव में राम जन्म भूमि पर राम मंदिर का निर्माण राष्ट्रीय स्वाभिमान का प्रतीक है. इसके लिए कई बार बातचीत के द्वारा समाधान के प्रयास भी हुए, लेकिन हर बार असफलता मिली. इसलिए सरकार इसमें कानून बनाकर राम मंदिर निर्माण का रास्ता निकालें.

केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने विश्व हिंदू परिषद के नेताओं को कहा कि भगवान राम आस्था का विषय हैं. देश की आत्मा हैं. वह सारी मानवता के लिए आदर्श हैं. मैं समझता हूं कि उनकी भावना हर भारतवासी की भावना है. उन्होंने जो मांग हमारे सामने रखी है उनकी इस बात को आगे पहुंचाएंगे. श्रीराम से कहेंगे कि वह हमें आशीर्वाद दें.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें