scorecardresearch
 

कलाकारों को कोरोनाकाल में मिले राहत, संस्कार भारती ने कहा बने आवास नीति

कोरोना के इस गंभीर संकट के समय में कलाकारों से सरकारी घर खाली करवाने के केंद्र सरकार की कार्रवाई पर संस्कार भारती ने सरकार से आवास नीति बनाने की अपील की है.

संस्कार भारती के महामंत्री अमीर चंद संस्कृति मंत्री प्रहलाद पटेल को ज्ञापन सौंपते हुए संस्कार भारती के महामंत्री अमीर चंद संस्कृति मंत्री प्रहलाद पटेल को ज्ञापन सौंपते हुए

नई दिल्ली: कोरोना के इस गंभीर संकट के समय में कलाकारों से सरकारी घर खाली करवाने के केंद्र सरकार की कार्रवाई पर संस्कार भारती ने सरकार से आवास नीति बनाने की अपील की है. संस्कार भारती के अखिल भारतीय महामंत्री अमीर चंद के नेतृत्व में चार सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने आज केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल से मुलाकात कर इस बाबत एक ज्ञापन सौंपा. प्रतिनिधिमंडल में अमीर चंद के अलावा प्रो चंदन कुमार, सुबोध शर्मा और अनुपम भटनागर शामिल थे. अमीर चंद ने संस्कृति मंत्री से मुलाकात के बाद बताया कि प्रतिनिधिमंडल ने मंत्री महोदय से इस मसले पर सहानुभूति पूर्वक विचार करने का आग्रह किया.

संस्कृति मंत्री प्रह्लाद पटेल ने संस्कार भारती की कलाकारों के लिए एक आवास नीति के प्रस्ताव से सहमति जताई और इसपर विचार करने का आश्वासन दिया. भारतीय कला के संबर्धन और संस्कृति को को समर्पित संस्था संस्कार भारती का मानना है कि शहरी विकास मंत्रालय का कलाकारों से कोरोना संकट के समय घर खाली करवाने का नोटिस देना मानवीय आधार पर अनुचित है. संगठन का मानना है कि ये आदेश नियम संगत हो सकते हैं लेकिन इसमें मानवीय दृष्टिकोण अपनाने की आवश्यकता है. अमीर चंद ने कहा कि संस्कार भारती कलाकारों के हित के लिए इस अभियान को जारी रखेगी. अभी कुछ दिनों पहले ही अमीर चंद वरिष्ठ कलाकार बिरजू महाराज से भी मिले थे और उनका पक्ष जाना था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें