scorecardresearch
 

नूपुर के बयान पर लखनऊ से कोलकाता तक बवाल, रांची में फायरिंग, पथराव में कई पुलिसकर्मी जख्मी

शुक्रवार को जुमा की नमाज के बाद लोगों ने नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर मस्जिद में विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान नूपुर शर्मा के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी हुई.

X
फाइल फोटो
फाइल फोटो
स्टोरी हाइलाइट्स
  • जुमे की नमाज के बाद हुआ विरोध-प्रदर्शन
  • पैगंबर मोहम्मद पर बयान को लेकर जता रहे थे विरोध

पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी के मामले को लेकर विवाद थमता नजर नहीं आ रहा. शुक्रवार को जुमा की नमाज के बाद देश के कई शहरों में नूपुर शर्मा के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन हुआ. इस दौरान भीड़ को कंट्रोल करने के लिए पुलिस को भारी मशक्कत भी करनी पड़ी. 

दिल्ली के जामा मस्जिद से लेकर कोलकाता और यूपी के कई शहरों में नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन हुआ. प्रयागराज में प्रदर्शनकारियों ने पत्थरबाजी की. हावड़ा में भी प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया. इसके बाद पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े. 

लखनऊ- देवबंद में भी हंगामा

यूपी की राजधानी लखनऊ के अलावा देवबंद, प्रयागराज और सहारनपुर में भी जमकर हंगामा हुआ. देवबंद में पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया है. 

सीएम योगी ने अधिकारियों को दिए निर्देश 

यूपी समेत देशभर में हो रहे हिंसक प्रदर्शनों के बीच सीएम योगी ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जहां-जहां शांति व्यवस्था भंग करने की कोशिश हो रही है, वहां कड़ी कार्रवाई की जाए, सुरक्षा व्यवस्था से कही भी कोई खिलवाड़ ना करे. ऐसी व्यवस्था बनाई जाए, सभी स्थानों की कड़ी मॉनिटरिंग की जाए.
 

जामा मस्जिद में जमकर हुई नारेबाजी

जामा मस्जिद में प्रदर्शनकारियों ने नूपुर शर्मा और नवीन जिंदल पर कार्रवाई की मांग की. साथ ही लोगों ने जमकर नारेबाजी भी की. हालांकि, पुलिस का कहना है कि अब स्थिति काबू में है. जामा मस्जिद के शाही इमाम का कहना है कि उन्हें इस विरोध प्रदर्शन के बारे में कुछ पता नहीं है. न ही मस्जिद की ओर से कोई विरोध प्रदर्शन बुलाया गया था.

शाही इमाम बोले- जामा मस्जिद ने नहीं बुलाया था प्रदर्शन

जामा मस्जिद के शाही इमाम ने कहा, उन्हें नहीं पता था कि जामा मस्जिद के बाहर इस तरह का कोई प्रदर्शन होना है. उन्होंने कहा, न ही जामा मस्जिद की ओर से विरोध प्रदर्शन बुलाया गया था. उन्होंने कहा, कुछ लोगों ने जामा मस्जिद चौक पर यानी गेट नंबर एक नारे लगाने शुरू कर दिए. ये कौन लोग हैं, ये तो पुलिस पता लगाएगी. पुलिस को मालूम होगा, ये कौन लोग हैं किन लोगों ने ये नारेबाजी की है. किसी को पता नहीं था मेरे खयाल से पुलिस को भी पता नहीं था की कोई प्रदर्शन होने वाला है. 

हैदराबाद में भी नूपुर के खिलाफ प्रदर्शन 

तेलंगाना की राजधानी हैदराबाद में भी कुछ जगहों पर नूपुर शर्मा, राजा सिंह और अन्य के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हो रहा है. हैदराबाद के मक्का मस्जिद, चार मीनार, अजीजिया मस्जिद, हुमायूं नगर, मस्जिद ए कुबा, वादी ए मुस्तफा, मस्जिद ए सैयदना ओमर फारूक, चंद्रयानगुट्टा और अन्य स्थानों पर बड़ी संख्या में जनता ने बाहर आकर विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों ने नुपुर शर्मा, राजा के खिलाफ नारे लगाए.
 

रांची में भी मुस्लिम समुदाय का हिंसक प्रदर्शन 

नूपुर शर्मा के बयान पर आक्रोशित मुस्लिम समाज के लोगों ने शुक्रवार को रांची के मेन रोड पर हिंसक प्रदर्शन किया. भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी. 
पुलिस ने जब लाठीचार्ज किया तो भीड़ की ओर से पत्थर चलाए गए. पत्थरबाजी में पुलिस के कई जवानों को चोट लगी. उसके बाद भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग की. उसके बाद ही भीड़ पर काबू पाया जा सका. इससे पहले मुस्लिम समुदाय के लोग नूपुर शर्मा के बयान का विरोध करने राजधानी की सड़कों पर उतरे थे. उन लोगों ने अपनी दुकानें बंद रखीं और अन्य दुकानदारों से भी दुकानें बंद करने को कहने लगे. डोरंडा इलाके में भी उन्होंने दुकानों को बंद कराया. 

हावड़ा में पुलिस पर पथराव

नूपुर शर्मा की गिरफ्तारी की मांग को लेकर कोलकाता और हावड़ा में विरोध प्रदर्शन हुआ. हावड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग पर प्रदर्शनकारियों ने रास्ते पर टायर जलाते हुए प्रदर्शन किया. हालांकि, पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को हटा दिया. ऐसे में प्रदर्शनकारियों की ओर से पुलिस पर पथराव किया गया, इसके बाद पुलिस को आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े. इससे पहले गुरुवार को भी 12 घंटे तक हावड़ा में राष्ट्रीय राजमार्ग पर प्रदर्शनकारियों ने विरोध प्रदर्शन किया. 

यूपी में शहर दर शहर बवाल

जुमे की नमाज के बाद यूपी के लखनऊ, प्रयागराज सहारनपुर और देवबंद में नूपुर शर्मा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुआ. इस दौरान जमकर नारेबाजी भी हुई. देवबंद में पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में भी ले लिया है. पुलिस को लोगों को नियंत्रित करने के लिए भारी मशक्कत करनी पड़ी.
 

प्रयागराज में नूपुर शर्मा के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करते लोग


मुरादाबाद के मुगलपुरा क्षेत्र में जुमे की नमाज के बाद अचानक कुछ लोगों ने चौराहे पर आकर प्रदर्शन किया. इस मौके पर भारी संख्या में पहुंची पुलिस ने सभी को शांत कराकर घर भेज दिया. 

क्या है मामला?

बीजेपी से निलंबित प्रवक्ता नूपुर शर्मा ने एक टीवी डिबेट में पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी की थी. इसके बाद विवाद काफी बढ़ गया था. यहां तक कि अरब देशों ने भी नूपुर शर्मा की टिप्पणी की निंदा की थी. इसके बाद बीजेपी ने नूपुर शर्मा को पार्टी से निलंबित कर दिया. विवाद बढ़ने के बाद नूपुर शर्मा ने भी माफी मांगी थी और अपना बयान वापस लिया था. उन्होंने कहा था, मैं अपने शब्द वापस लेती हूं. उन्होंने कहा कि मेरी मंशा किसी को ठेस पहुंचाने की नहीं थी, अगर मेरे शब्दों से किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंची है तो मैं अपने शब्द वापस लेती हूं.

दिल्ली पुलिस हुई सख्त

उधर, नूपुर शर्मा के मामले को देखते हुए दिल्ली पुलिस सख्त हो गई. दिल्ली पुलिस ने हाल ही में भड़काऊ टिप्पणी करने के मामले में नूपुर शर्मा, असदुद्दीन ओवैसी समेत 32 लोगों पर केस दर्ज किया था. 

अलग-अलग धर्म के खिलाफ अशोभनीय टिप्पणी कर माहौल खराब करने के आरोप में दिल्ली पुलिस की साइबर यूनिट ने बीजेपी की पूर्व राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा, नवीन जिंदल, असदुद्दीन ओवैसी, शादाब चौहान, सबा नकवी , मौलाना मुफ्ती नदीम, अब्दुर रहमान, गुलजार अंसारी, यति नरसिम्हानंद, दानिश कुरैशी, विनीता शर्मा, अनिल कुमार मीणा और पूजा शकुन के खिलाफ मामला दर्ज किया है.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें