scorecardresearch
 

मुख्तार अब्बास नकवी बोले- अल्पसंख्यकों का सशक्तिकरण करना सरकार का मिशन

केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री का कहना है कि सरकार अल्पसंख्यकों के लिए अनेक कार्यक्रम भी आयोजित कर रही है. जिसमें प्रोग्रेस पंचायत और गुरुकुल जैसे आवासीय स्कूलों की स्थापना, गरीब नवाज स्किल डेवलपमेंट सेंटर शुरू करना, छात्राओं के लिए बेगम हजरत महल स्कॉलरशिप, अल्पसंख्यकों के लिए पांच विश्व स्तरीय शिक्षा संस्थान स्थापित करना और 500 से ज्यादा उच्च शैक्षणिक मानको से भरपूर आवासीय विद्यालय और कौशल विकास केंद्र शामिल हैं.

मुख्तार अब्बास नकवी मुख्तार अब्बास नकवी

केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने सोमवार को दिल्ली में आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि मोदी सरकार का मंत्रालय अल्पसंख्यकों के समाजिक, आर्थिक, शैक्षणिक सशक्तिकरण के संकल्प के साथ एक मिशन के रूप में काम कर रहा है. इसी लक्ष्य के साथ आगे बढ़ते हुए केंद्र सरकार ने इस बार अल्पसंख्यक मंत्रालय के बजट में भी बड़ी बढ़ोतरी की है.

अगले साल के लिए इस मंत्रालय के बजट को बढ़ाकर 4195.48 करोड़ रुपये कर दिया गया है. जबकि पिछला बजट 3827.25 करोड़ रुपये था. नकवी का कहना है कि इस बजट की बढ़ोतरी से अल्पसंख्यक सशक्तिकरण में मदद मिलेगी.

केंद्रीय अल्पसंख्यक मंत्री का कहना है कि सरकार अल्पसंख्यकों के लिए अनेक कार्यक्रम भी आयोजित कर रही है. जिसमें प्रोग्रेस पंचायत और गुरुकुल जैसे आवासीय स्कूलों की स्थापना, गरीब नवाज स्किल डेवलपमेंट सेंटर शुरू करना, छात्राओं के लिए बेगम हजरत महल स्कॉलरशिप, अल्पसंख्यकों के लिए पांच विश्व स्तरीय शिक्षा संस्थान स्थापित करना और 500 से ज्यादा उच्च शैक्षणिक मानको से भरपूर आवासीय विद्यालय और कौशल विकास केंद्र शामिल हैं.

वक्फ बोर्ड के बारे में बोलते हुए नकवी ने कहना कि कुछ लोग निहित स्वार्थों के लिए वक्फ संपत्तियों के विकास और समाज के हितों के रास्ते में रुकावट पैदा कर रहे हैं. वक्फ बोर्ड के कुछ मामलों में गंभीर गड़बड़ियां भी सामने आई हैं. जिसकी जांच चल रही है. उन्होंने कहा कि जांच पूरी होने पर इन मामलों में कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें